Home National Z+ सिक्योरिटी, बुलेटप्रूफ गाड़ी… PMO का अधिकारी बन जम्मू-कश्मीर के दौरे करता...

Z+ सिक्योरिटी, बुलेटप्रूफ गाड़ी… PMO का अधिकारी बन जम्मू-कश्मीर के दौरे करता था किरण पटेल: गुजरात का ठग श्रीनगर में गिरफ्तार

41
0

जम्मू-कश्मीर में एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है जो पीएमओ का अधिकारी बनकर केंद्र शासित प्रदेश के दौरे करता था। इस ठग की पहचान गुजरात के रहने वाले किरण पटेल के तौर पर हुई है। उसे 3 मार्च 2023 को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया था। लेकिन मीडिया में यह जानकारी अब सामने आई है।

गुरुवार (16 मार्च 2023) को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने उसे श्रीनगर की अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। आज तक की रिपोर्ट के अनुसार किरण पटेल अक्टूबर 2022 से कश्मीर घाटी का दौरा कर रहा था। गिरफ्तार होने से पहले वह नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास स्थित उरी कमान पोस्ट होते हुए श्रीनगर के लाल चौक तक पहुँचा था। वह जम्मू-कश्मीर में 5 सितारा होटल में ठहरता था। जेड प्लस सिक्योरिटी के साथ बुलेटप्रूफ गाड़ी में घूमता था।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक किरण पटेल खुद को प्रधानमंत्री कार्यालय में अतिरिक्त निदेशक (रणनीति और अभियान) बताता था। उसने फरवरी 2023 में भी जम्मू-कश्मीर का दौरा किया था। उसकी यात्रा के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। उसे कश्मीर के विभिन्न स्थानों पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की सुरक्षा में देखा जा सकता है। सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में उसे बडगाम के दूधपथरी में बर्फ पर टहलते देखा जा सकता है। इसके अलावा उसे श्रीनगर घंटाघर और उरी में एलओसी के पास भी सुरक्षाबलों के साथ पोज देते देखा जा सकता है।

पता चला है कि किरण पटेल ने उच्च स्तरीय सरकारी सुविधाओं का लाभ लेकर न सिर्फ जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग हिस्सों का दौरा किया, बल्कि बडगाम में अधिकारियों के साथ बैठक भी की। संदेह होने के बाद खुफिया एजेंसियों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस को उसके बारे में सतर्क किया। जिसके बाद श्रीनगर के होटल से उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

पटेल के खिलाफ श्रीनगर के निशात पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 419,420,467,468 और 471 के तहत केस दर्ज किया गया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस मामले की जाँच कर रही है। कहा जा रहा है कि समय पर ठग का पता न लगा पाने के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस के 2 अधिकारियों के खिलाफ एक्शन की तैयारी भी चल रही है। जाँच में गुजरात पुलिस की टीम के भी शामिल होने की बात कही जा रही है।