Home Jhabua अनाज वितरण मे हो रही गडबडी को लेकर ग्राम ढेकल बडी के...

अनाज वितरण मे हो रही गडबडी को लेकर ग्राम ढेकल बडी के ग्रामीणो ने बडी संख्या मे एकत्रिता होकर कलेक्टर निवास के बाहर दिया धरना

67
0

राशन कार्ड मे इंन्ट्री कर सैल्समैन नही देता ग्रामीणो को अनाज

झाबुआ। राकेश पोद्दार। शनिवार को अलसुबह से ही ग्रामीणो के द्वारा जिला कलेक्टर श्रीमती रजनी सिंह के निवास स्थान पहुचकर धरना दिया और नारेबाजी शुरू की। जिसमें पुरूष वर्ग सहित महिला एवं बंच्चे भी शामिल थे। राशन की दूकान मे अनियमितता एवं अनाज वितरण मे गडबडी को लेकर हल्ला बोला गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में लगातार अनाज वितरण प्रणाली को लेकर शिकायतों का दौर जारी है इसी क्रम में आज ग्राम ढेकल बड़ी के ग्रामीणों ने अनाज वितरण में गड़बड़ी को लेकर विनय भाबर के नेतृत्व में कलेक्टर निवास पर धरना दिया और अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी की। विनय भाबर द्वारा बताया गया कि इस तरह की शिकायत हर राशन दुकानो पर मिल रही है। जिसमें गरबी ग्रामीणो को अनाज वितरण मे सैल्समैनो द्वारा गडबडी की जा रही है। ऐसे मे गरीब ग्रामीण आखिर करे तो क्या करे। आखिर खाद्य विभाग के द्वारा इन पर कार्यवाही क्यो नही हो पा रही है। सैल्समैन हर बार कुपन मे इंन्ट्री को कर देता है लेकिन गा्रमिणो को अनाज नही मिलता। कई बार 3 से 4 महिने की इंन्ट्री तो रहती है लेकिन अनाज नही मिलता। आखिर इस तरह की अनियमितता जिले मे कब तक चलती रहेगी।

ग्रामीण जनों ने बताया कि सेल्समैन द्वारा उन्हें हर माह अनाज नहीं दिया जाता है कभी एक माह में, कभी 3 माह में अनाज दिया जाता है कई बार लंबी-लंबी कतारें लग जाने के बाद भी कुछ ही ग्रामीणों को अनाज मिल पाता है ग्रामीणों ने सेल्समैन पर यह भी आरोप लगाया कि वह घर आकर राशन कार्ड पर इंट्री करता है तथा राशन लेने जाने पर राशन की अनुपलब्धता बताकर उन्हें वहां से भेज देता है । लगातार कई महीनों से राशन नहीं देने से या राशन कम देने पर आज ग्राम ढेकल बड़ी के ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए वि भाबर के नेतृत्व में सुबह करीब 10ः00 बजे कलेक्टर निवास के बाहर रोड पर धरना दिया और सेल्समैन की कार्यप्रणाली को लेकर नारेबाजी की । ग्रामीण जनों ने सेल्समैन को हटाने को लेकर नारेबाजी की। करीब 1 घंटे के बाद प्रशासन हरकत में आया और अपर कलेक्टर एस.एस.मुजाल्दा झाबुआ एसडीएम सुनील कुमार झा, नायब तहसीलदार जितेंद्र सोलंकी, डिप्टी कलेक्टर एलएन गर्ग आदि अधिकारियों ने ग्रामीण जनों को समझाने का प्रयास किया और धरना खत्म करने की बात कही । लेकिन विजय भाबर और ग्रामीण जन कलेक्टर श्रीमती रजनीसिंह से चर्चा करने के बाद भी धरना समाप्त करने की बात कही । आखिर मे एसडीएम झा ने मोबाइल द्वारा कलेक्टर श्रीमती रजनीसिंह से विनय भाबर की चर्चा करवाई, कलेक्टर ने आश्वासन दिया कि शीघ्र ही कार्रवाई की जाएगी, तब जाकर यह धरना खत्म हुआ।