Home ELECTION Goa Assembly Election 2022: ममता बनर्जी से मिले BJP के पूर्व पार्टनर,...

Goa Assembly Election 2022: ममता बनर्जी से मिले BJP के पूर्व पार्टनर, गोवा फॉरवर्ड पार्टी के साथ होगा तृणमूल कांग्रेस का गठबंधन!

17
0

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) में जीत के बाद पश्चिम बंगाल की सीएम और तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) गोवा दौरे पर हैं. गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी दलों की तैयारियां जोरों पर है. सभी पार्टियों के प्रमुख गोवा का दौरा कर रहे हैं. शनिवार को गोवा फॉरवर्ड पार्टी (Goa Forward Block) के अध्यक्ष विजय सरदेसाई ने ममता बनर्जी से मुलाकात की. उसके बाद गोवा में गोवा फॉरवर्ड पार्टी के साथ टीएमसी की गठबंधन की अटकलें तेज हो गई हैं.

मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी सरकार और कांग्रेस पर पर जमकर निशाना साधा. ममता बनर्जी ने पीएम मोदी का नाम लिए बगैर कहा कि अच्छे दिन लाने वाले देश को बर्बाद करने में लगे हैं. इसके साथ ही ममता बनर्जी ने कांग्रेस पर भी वार करते हुए कहा कि कांग्रेस के कारण ही पीएम मोदी इतने शक्तिशाली हुए हैं. ममता बनर्जी ने क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन का भी संकेत दिया है.

फॉरवर्ड पार्टी और टीएमसी में हो सकता है गठबंधन

वहीं, गोवा फॉरवर्ड पार्टी के अध्यक्ष विजय सरदेसाई ने कहा कि आज ममता बनर्जी से मुलाकात हुई है. ममता बनर्जी क्षेत्रीय गौरव की प्रतीक हैं, हम भी एक क्षेत्रीय दल हैं। हम उनके हालिया बयान का स्वागत करते हैं कि बीजेपी के खिलाफ लड़ने के लिए समान विचारधारा वाले दलों को एक साथ आना चाहिए. प्राप्त जानकारी के मुताबिक,फॉरवर्ड पार्टी तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन करने की तैयारी में है. शुक्रवार को गोवा की राजधानी पणजी पहुंचीं ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और चुनावी रणनीति पर विस्तार से चर्चा की.

इसी साल बीजेपी से अलग हुई फॉरवर्ड पार्टी

सरदेसाई ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी राज्य में मजबूत स्थिति में है और वह तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन करने को तैयार हैं. इसी साल अप्रैल में  गोवा फॉरवर्ड पार्टी के प्रमुख विजय सरदेसाई ने बीजेपी से अपना गठबंधन खत्म किया था. सरदेसाई ने कहा, “इस भ्रष्ट और सांप्रदायिक शासन को समाप्त करने के लिए विपक्ष की एकता महत्वपूर्ण है.” बता दें सीएम ममता बनर्जी ने भी प्रेस कांफ्रेंस में स्वीकार किया कि उनकी गोवा फॉरवर्ड पार्टी से बातचीत हुई है. पार्टी क्षेत्रीय दलों के साथ समझौता करने के पक्षपाती है.