Home International PM मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुके अमेरिकी लेखक से बात...

PM मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुके अमेरिकी लेखक से बात करेंगे राहुल गांधी

61
0
RAHUL GANDHI, FILE PIC

राहुल गांधी जिन निकोलस बर्न्स (Nicholas Burns) से यह बातचीत करने जा रहे हैं वह कई बार भारत (India) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को लेकर कई बार आपत्तिजनक ट्वीट करते रहे हैं.

 

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) ने कोरोना वायरस संकट (Coronavirus Crisis) के चलते वैश्विक व्यवस्था के नए सिरे से आकार लेने की संभावना पर अमेरिका के पूर्व विदेश उप मंत्री निकोलस बर्न्स (Nicholas Burns) से बातचीत की है जिसका वीडियो शुक्रवार को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जारी होगा. राहुल गांधी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. गांधी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ‘‘निकोलस बर्न्स से बातचीत की है कि कैसे कोरोना वायरस संकट वैश्विक व्यवस्था को नए सिरे से आकार दे रहा है. शुक्रवार सुबह 10 बजे मेरे सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जुड़िए.’’ उन्होंने बर्न्स के साथ की गई बातचीत के कुछ अंश भी जारी किए हैं. पूर्व राजनयिक बर्न्स इन दिनों हारवर्ड कैनेडी स्कूल में प्रोफेसर हैं.

 

राहुल गांधी जिन निकोलस बर्न्स से यह बातचीत करने जा रहे हैं वह कई बार भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को लेकर कई बार आपत्तिजनक ट्वीट करते रहे हैं. भारत के प्रधानमंत्री को लेकर किए गए इन ट्वीट्स में बर्न्स साफतौर पर उनका अपमान करते देखे गए हैं. बर्न्स अपने ट्वीट्स में पीएम नरेंद्र मोदी पर भारत को धार्मिक आधार पर विभाजित करने और समाज को अस्थिर करने जैसे निराधार आरोप लगा चुके हैं.

 


इतना ही नहीं बर्न्स प्रधानमंत्री पर हिंदू राष्ट्रवाद को बढ़ावा देने वाला बता चुके हैं. भारत को लेकर बर्न्स की सोच भी काफी संकुचित रही है. 2014 में क्लाइमेट चेंज (Climate Change) पर हुई अमेरिका और चीन की डील के बाद भी बर्न्स ने भारत पर तंज कसा था. इतना ही नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब भी बर्न्स एक बार उनका वीज़ा रोकने वाले अधिकारियों में मुख्य भूमिका में थे. ऐसे में राहुल गांधी ऐसे शख्स से बातचीत करने जा रहे हैं जो कि देश की जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधि को कई बार अपमानित कर चुका हो.

 


आपको बता दें कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोविड-19 संकट के असर एवं इससे निपटने के तरीकों को लेकर अलग अलग क्षेत्रों की हस्तियों के साथ संवाद कर रहे हैं. हाल ही में उन्होंने उद्योगपति राजीव बजाज से बातचीत की थी जिसमें बजाज ने लॉकडाउन को कठोर करार देते हुए कहा था कि इससे कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से तो नहीं रुक पाया, लेकिन देश की जीडीपी औंधे मुंह गिर गई. गांधी विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े प्रमुख विशेषज्ञों से चर्चा की श्रृंखला में जन स्वास्थ्य पेशेवर आशीष झा और स्वीडिश महामारी विशेषज्ञ जोहान गिसेक, प्रतिष्ठित अर्थशास्त्री रघुराम राजन और नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी से भी बातचीत कर चुके हैं.