Home Indore इंदौर की निजी लैब को मिली मंजूरी, 24 घंटे में जांचे जा...

इंदौर की निजी लैब को मिली मंजूरी, 24 घंटे में जांचे जा सकेंगे 50 सैंपल

209
0

इंदौर ।  शहर की तीन निजी लैब में से एक संपूर्ण लैब को इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने कोरोना की जांच की अनुमति दे दी है। यहां 24 घंटे में 50 से ज्यादा जांच हो सकेगी। किट नहीं आने के कारण जांच फिलहाल शुरू नहीं हो पाई है।

प्रदेश सरकार द्वारा जांच की गाइडलाइन तय करने और आइसीएमआर से किट मिलने के बाद शहर में जांच की गति और बढ़ जाएगी। लैब में लोग खुद पैसे देकर जांच करा सकते हैं या नहीं, इस पर फैसला सरकार को लेना है। गुजरात में लोग निजी लैबों से भी जांच करवा रहे हैं।

कोरोना जांच की गति धीमी होने से कई मरीज रिपोर्ट के इंतजार में अस्पतालों में भर्ती हैं। इसे देखते हुए संपूर्ण लैब, सेंट्रल लैब और अरबिंदो अस्पताल ने कोरोना जांच की अनुमति मांगी थी, लेकिन सिर्फ एक को ही अधिकृत किया गया।

पिछले हफ्ते जूम एप के जरिए तीनों लैब का निरीक्षण दिल्ली से हुआ था। कम संक्रमण में भी सटीक परिणाम कोरोना आरएनए वायरस है। जिस लैब को मंजूरी मिली है, वहां रियल टाइम पॉलिमिनरी चेन रिएक्शन (RT-PCR) तकनीक आधार पर जांच हो रही है।

इसमें वायरस का एक भी आरएनए होता है तो जांच में उनकी संख्या बढ़ाकर देखा जा सकता है। ऐसे में शरीर में कम संक्रमण हो तो भी नतीजे सटीक आ जाते हैं। टू नेट मशीन पर एक बार में दो ही सैंपल की जांच संभव है और इनके परिणाम आने में 45 मिनट लगते हैं।

शहर में अभी सैंपल लेकर जांच कराने का जिम्मा प्रशासन संभाल रहा है। निजी तौर पर जांच का खर्च साढ़े चार हजार रुपये निजी तौर पर जांच कराने का खर्च साढ़े चार हजार रुपये आता है। सरकार की तरफ से निजी जांच की अनुमति मिलेगी तो लोग खुद भी अपनी जांच करा सकेंगे। संपूर्ण लैब की डायरेक्टर साधना सोडानी ने बताया कि हमें अभी किट नहीं मिली है। हमारी तरफ से तैयारी पूरी है। प्रदेश सरकार की गाइडलाइन तय होते ही हम जांच शुरू कर देंगे।