Home Jhabua हिन्दू नववर्ष उत्सव समिति द्वारा सफाई कामगार महिला से गुडी की पूजा...

हिन्दू नववर्ष उत्सव समिति द्वारा सफाई कामगार महिला से गुडी की पूजा करवाकर किया प्रभातफेरी का आगाज

14
0

पुरे नगर मे दिखी सद्भावना की झलक

झाबुआ। राकेश पोद्दार। लगभग 14 वर्षो से हिन्दू नववर्ष उत्सव समिति हिन्दू नववर्ष चैत्र नवरात्री के उपलक्ष्य में प्रभात फेरी का आयोजन करते आई है यह पहला अवसर था जब 22 मार्च को प्रातः 8 बजे समिति के सदस्यो सफाई महिला कर्मी जो राजवाडा परिसर की सफाई कर रही थी को ससम्मान बुलाकर पुष्प-हार से स्वागत करते हुए उनसेे गुड़ी की पूजा सम्पन्न करवायी गयी व प्रभात फेरी का आगज किया गया। इसमे समाज में आपसी सहभावना की झलक देखने को मिली। समिति द्वारा अचानक किए गए इस निर्णय से उपस्थिल सर्व समाज के गणमान्य लोगों ने इसकी जमकर सराहना की है। साथ ही सामाजिक समरसता कायम करने का अद्वितीय मार्ग भी करार दिया है।

ढोल ढमाको एवं बैंड के साथ बजाए जा रहे देश भक्त एवं धार्मिक गीतो के साथ प. प्रमोद मिश्रा द्वारा किए गए। शंखनाद के बाद प्रभात फेरी की धर्ममय शुरुआत की गयी। इस यात्रा में शहर के विभिन्न समाजो की मातृशक्ति आगे-आगे भगवा ध्वज लिए चल रही महिलाएं विशेष आकर्षण का केन्द्र बन गई थी। प्रभात फेरी राजवाडा चैक से शुरू होकर राम मंदिर, मनोकामना चैराहा, आजाद चैक, बाबेल चैराहा, थांदला गेट, बस स्टैण्ड का चक्कर लगाते हुए थांदला गेट, लक्ष्मी बाई मार्ग होते हुए स्थानीय राजवाडा परिसर पर सम्पन्न हुई। शोभा यात्रा के दौरान जय श्री राम , भारत माता की जय, वंदे मातरम जैसे नारो से वातावरण धर्ममय हो गया था। प्रभात फेरी के दौरान बीच बीच मे लोगो को हिन्दू नववर्ष की बधाईया सभी चैराहो और मार्गो पर समिति की ओर से प्रेषित की गयी। कार्यक्रम के अंतमे महिलाओ ने परम्परागत तरीके से गुडी की पूजा अच्रना कर धर्म एवं समाज मे सद्भावना एवं एकीकरण होने की प्रार्थना की गई।
दिखी हिन्दू समाज की एकता हिन्दू नववर्ष उत्सव समिति के व्यवस्थापक आशीष चतुर्वेदी ने बताया कि इस बार शोभा यात्रा अपने एक नए परिवेश मे निकाली गई। इस यात्रा मे ब्राह्मण समाज, राजपूत समाज, जैन समाज, नीमा समाज, माली समाज, अरोरा समाज, बैरागी समाज, वाल्मीकी समाज, आदिवासी समाज, कलाल समाज , कायस्थ समाज, चर्मकार समाज, रजत समाज, सेन समाज सहित अनेक समाजो के अलावा सामाजिक संगठनो मे सामाजिक महासंघ आजाद साहित्य परिषद्, सकल व्यापारी संघ, आजाद साहित्य परिषद्, गायत्री शब्क्ति , आसरा परमार्थिक ट्रस्ट, संकल्प गु्रप, सांत्वाना गु्रप, राजवाडा मित्र मंण्डल, पेंशनर एसोसिएशन, जैन श्योशल गु्रप, जैन श्योषल गु्रप मैत्री, पंतजलि योग समिति, हाउसिंग बोर्ड महिला मण्डल, लक्ष्मी नगर विकास समिति, राजगढ नाका मित्र मण्डल आदि अनेक संस्थाओ के प्रतिनिधि उपस्थित थे। इन सभी के एक मंच पर आने से हिन्दू समाज की एकता देखते ही बनती थी। इस अवसर पर नगर पालिका परिषद् के विभिन्न पदाधिकारी गणमान्य नागरिक, माताएं बहने एवं समाजसेवी बडी संस्था मे उपस्थित थे।