Home Jhabua विश्व विकलांग दिवस पर विकलांग केन्द्र पर दिव्यांगजनो का हुआ स्वास्थ्य परिक्षण

विश्व विकलांग दिवस पर विकलांग केन्द्र पर दिव्यांगजनो का हुआ स्वास्थ्य परिक्षण

19
0

झाबुआ। राकेश पोद्दार। विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर कलेक्टर सुश्री तन्वी हुड्डा के मार्गदर्शन में 4 दिसम्बर को जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र में दिव्यांगजनों एवं केन्द्र में संचालित अनुभूति सी.डब्ल्यू.एस.एन. छात्रावास के बालकों के स्वास्थ्य परीक्षण का आयोजन किया गया। सामाजिक न्याय एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग उपसंचालक पंकज सांवले ने बताया कि 4 दिसम्बर को प्रातः 10.30 बजे से दिव्यांगजनों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया, जिसमें कुल 22 बाहरी दिव्यांगजनों का परीक्षण कर उनके प्रमाण पत्र बनाये गये। साथ ही सी.डब्ल्यू.एस.एन. छात्रावास के 42 बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
शिविर में जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन एवं नाक, कान, गला रोग विशेषज्ञ डॉ. के. एल. पाटीदार, डॉ. विजय सिंह निनामा अस्थिरोग विशेषज्ञ, डॉ. जी.एस. आवासिया नेत्र रोग विशेषज्ञ, डॉ. नवीन बामनिया बाल रोग विशेषज्ञ द्वारा अनुभूति छात्रावास के 42 छात्रों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। उपस्थित दिव्यांगजनों में से 22 दिव्यांगजनों के दिव्यांगता प्रमाण पत्र तैयार किये गये। उपस्थित डॉक्टर्स ने बालक-बालिकाओं का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आवश्यकतानुसार परामर्श प्रदान किया और जिला चिकित्सालय से आवश्यक दवाए प्राप्त करने हेतु उपस्थित स्टाफ एवं पालकों को निर्देशित किया। उपस्थित डॉक्टरों में से डॉ. अवासिया ने बालक-बालिकाओं को ऑखों की देखभाल के प्रति आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराते हुए कहा कि हमें हरी सब्जीयॉ अपने भोजन में आवश्यक रूप से शामिल करना चाहिए । डॉ. निनामा ने बालकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमें प्रतिदिन दूध व उससे बने हुए पदार्थो का सेवन करना चाहिए, जिससे हमारी हड्डीया मजबुत हो। डॉ. पाटीदार ने बच्चों को नाक-कान व गले के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि शरीर के तीनों अंग एक दूसरे से मिले हुए है और इन पर शीघ्र ही इंन्फेशन होने की संभावना होती है, उन्होने बच्चों को सर्दी से बचने के उपाय के बारे में बताया कि इन दिनों हमें अपने कान व शरीर को ऊनी कपड़ो से ढॅंकना चाहिए, जिससे शरीर व उक्त अंगों को संक्रमण से बचाया जा सके। श्री सांवले ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर दिव्यांगजनों की खेलकूद सामर्थ्य एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का जिला स्तरीय आयोजन आगामी 14 दिसम्बर को जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र के परिसर में किया जाएगा, जिसमें जिले की विभिन्न जनपदों से चयनित दिव्यांग बालक-बालिकाए विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेंगे।