Home Jhabua सुश्री आशा  मालवीय के झाबुआ पहुंचने पर भारतीय स्त्री संगठन, सामाजिक महासंघ,...

सुश्री आशा  मालवीय के झाबुआ पहुंचने पर भारतीय स्त्री संगठन, सामाजिक महासंघ, रोटरी क्लब ‘मेन’ आदि ने किया आत्मीय अभिनंदन

83
0

राष्ट्रीय खिलाड़ी ने स्कूल और काॅलेज की छात्राआंे को सीखाएं आत्म-निर्भर और आत्म-रक्षा के गुर
झाबुआ। राकेश पोद्दार। मप्र टूरिज्म बोर्ड भोपाल द्वारा वसुधा विकास संस्थान के विषेष सहयोग से राजस्थान के राजगढ़ ब्यावरा निवासी सुश्री आषा मालवीय उम्र 24 वर्ष ने 1 नवंबर, मप्र के स्थापना दिवस से मप्र की राजधानी भोपाल से साईकिल यात्रा आरंभ की है। जिसका उद्देष्य भारतीय संस्कृति और परंपरा के साथ खान-पान को प्रोत्साहन देना तथा विषेषकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है। सुश्री आषा मालवीय सोलो ट्रेवलर होने के साथ पर्वतारोही एवं नेषनल लेवल की खिलाड़ी भी है। सुश्री मालवीय की साईकिल यात्रा को भोपाल में मप्र शासन की पर्यटन तथा धर्मस्व मंत्री उषा ठाकुर और पर्यवटन विभाग के निदेषक-प्रंबधक आदि द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। यह यात्रा देष के 28 राज्यों का भ्रमण करते हुए 20 हजार किमी का सफर तय वर्ष 2023 के सितंबर माह में नई-दिल्ली में पूर्ण होगी।

सुश्री आषा मालवीय अपनी यात्रा के तहत ही 7 नवंबर, सोमवार रात करीब 8 बजे धार से राजगढ़, कालादेवी होते हुए झाबुआ पहुंची थी। जहां वसुधा विकास संस्थान के कार्यक्रम समन्वयक मिथुन रावत एवं सुश्री सारंगा सिंगाड़ तथा ट्रेनर कृति शर्मा ने आगवानी की। रात्रि विश्राम स्थानीय काॅलेज मार्ग स्थित सर्किट हाऊस पर किया। अगले दिन 8 नवंबर, मंगलवार सुबह उनका सर्किट हाऊस भारतीय स्त्री संगठन की ओर से प्रदेष अध्यक्ष श्रीमती किरण शर्मा, जिलाध्यक्ष प्रवीणा माथुर, अन्य जिला पदाधिकारियों में श्रीमती अर्चना सिसौदिया, वंदना नायर, नम्रता यादव, ज्योत्सना मालवीय, पूजा माथुर, सीमा शर्मा आदि ने सुश्री मालवीयका पुष्प गुच्छ भेंटकर अभिनंदन करने के साथ शाल-श्रीफल और ‘‘आत्मनिर्भर भारत’’ का अभिनंदन-पत्र प्रदान कर भावभरा सम्मान किया। इस दौरान रोटरी मंडल 3040 के डिस्ट्रीक्ट सचिव एवं वरिष्ठ रोटेरियन उमंग सक्सेना, सामाजिक महासंघ जिलाध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, वरिष्ठ समाजसेवी अषोक शर्मा, रोटरी क्लब ‘मेन’ अध्यक्ष कार्तिक नीमा, सचिव ईदरीष बोहरा, रोटरेक्ट क्लब सचिव दौलत गेलानी, अरोरा समाज नवयुवक मंडल अध्यक्ष हार्दिक अरोरा, पं. विष्णु व्यास, मुस्लिम समाज से अब्दुल रहीम अब्बु दादा आदि ने भी पुष्पमालाओं से स्वागत कर सफल यात्रा हेतु शुभकामनाएं प्रेषित की।
सुश्री मालवीय द्वारा दोपहर में सर्किट हाऊस पर भोजन बाद करीब 2 बजे यहां से अपने अगले गंतव्य स्थल दाहोद (गुजरात) के लिए साईकिल से प्रस्थान किया।