Home Bhopal MP, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चुनाव लड़ रहे मोदी के 4 केंद्रीय...

MP, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चुनाव लड़ रहे मोदी के 4 केंद्रीय मंत्रियों समेत कई सांसदों का क्या रहा, जानें यहां | Union Ministers And Lok sabha Sansad BJP candidate Result 2023 margin congress

14
0
MP, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चुनाव लड़ रहे मोदी के 4 केंद्रीय मंत्रियों समेत कई सांसदों का क्या रहा, जानें यहां

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बड़ी संख्या में केंद्रीय मंत्री और सांसद चुनाव लड़ रहे हैं.

भारतीय जनता पार्टी ने इस बार विधानसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों को उतारकर बड़ा दांव खेला है. बीजेपी ने मध्य प्रदेश में 3 केंद्रीय मंत्रियों के साथ-साथ सांसदों को उतारा है. राजस्थान में भी एमपी की तरह बीजेपी ने 7 सांसदों को टिकट दिया है. इसी तरह छत्तीसगढ़ में भी केंद्रीय मंत्री समेत कई सांसद भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. आइए, जानते हैं कि इन सीटों पर क्या हाल है.

एमपी के दिमनी सीट पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बढ़त बना ली है तो वहीं छत्तीसगढ़ में केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह लगातार पीछे चल रही हैं, जबकि झोटावाड़ा से सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ शुरुआती रुझान में पीछे चल रहे थे, लेकिन उन्होंने जीत हासिल कर ली है.

MP में 3 केंद्रीय मंत्रियों का भविष्य दांव पर

मध्य प्रदेश की दिमनी विधानसभा सीट पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर चुनाव लड़ रहे हैं. नरेंद्र सिंह 19 दौर में से 7 दौर की गिनती के बाद बसपा के बलवीर सिंह डांडोडिया से महज 635 मतों से आगे चल रहे हैं.कांग्रेस के प्रत्याशी रविंद्र सिंह तोमर तीसरे नंबर पर खिसक गए हैं.

मांडला जिले की निवास सीट से केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते किस्मत आजमा रहे हैं. अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित सीट पर फग्गन सिंह के सामने कांग्रेस ने चैन सिंह वारकाडे को उतारा. लेकिन फग्गन सिंह 9 दौर की मतगणना के बाद चैन सिंह से 7464 वोटों से पीछे चल रहे हैं.

नरसिंहपुर सीट पर केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल 19 में से 6 दौर की मतगणना के बाद 9 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं. उनके सामने कांग्रेस के लखन सिंह पटेल हैं.

जबलपुर पश्चिम सीट से बीजेपी के सांसद राकेश सिंह चुनाव लड़ रहे हैं और वो कांग्रेस के तरुण भनोट से 9 दौर की मतगणना के बाद 15 हजार से भी अधिक वोटों से आगे चल रहे हैं.

सतना जिले की सतना सीट से सांसद गणेश सिंह चुनाव लड़ रहे हैं और वो 4 दौर की गिनती के बाद कांग्रेस के सिद्धार्थ कुशवाह से आगे चल रहे हैं.

सीधी जिले की सीधी सीट से सांसद रीति पाठक चुनाव मैदान में हैं और वह शुरुआती रुझान में आगे चल रही हैं. कांग्रेस ने उनके सामने ज्ञान सिंह को खड़ा किया है.

होशंगाबाद से सांसद उदय प्रताप सिंह इस बार गाडरवाड़ा सीट से चुनाव मैदान में हैं. उदय प्रताप सिंह कांग्रेस की सुनीता पटेल से 6 दौर की गिनती के बाद 22 हजार से अधिक वोटों से आगे चल रहे हैं.

राजस्थान में 7 सांसदों का क्या रहा

मध्य प्रदेश की तरह राजस्थान में भी बीजेपी ने 7 सांसदों को मैदान में उतारा है और इसमें झोटवाड़ा सीट भी शामिल है. यहां से पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कांग्रेस के अभिषेक चौधरी को हरा दिया है.

झोटवाड़ा के अलावा मंडावा सीट से बीजेपी के टिकट पर सांसद नरेंद्र कुमार 22 में से 14 दौर की मतगणना के बाद 10 हजार से भी अधिक वोटों से पीछे चल रहे हैं. कांग्रेस की रीता चौधरी लगातार आगे चल रही हैं.

बीजेपी ने जालोर जिले की सांचौर विधानसभा सीट पर भी अपने सांसद देवजी पटेल को उतारा है, लेकिन वो 21 में से 9 दौर की मतगणना के बाद पीछे चल रहे हैं. वह तीसरे नंबर पर खिसक गए हैं. यहां पर निर्दलीय जीवा राम चौधरी कांग्रेस के सुखराम बिश्नोई से आगे चल रहे हैं.

अजमेर जिले की किशनगढ़ सीट पर बीजेपी के सांसद भागीरथ चौधरी चुनाव मैदान में हैं और वह भी पीछे चल रहे हैं. 9 दौर की गिनती के बाद निर्दलीय सुरेश टाक पहले नंबर पर आ गए हैं, वह कांग्रेस के विकास चौधरी 3 हजार से भी अधिक मतों से आगे चल रहे हैं. सांसद भागीरथ चौधरी तीसरे नंबर पर खिसक गए हैं.

अलवर जिले की तिजारा सीट से बीजेपी के सांसद बाबा बालकनाथ ने चुनाव में जीत हासिल कर ली है. उन्होंने कांग्रेस के इमरान खान को हरा दिया है. इस जीत के साथ ही उन्होंने पिछले चुनाव में मिली हार का बदला ले लिया.

राजस्थान की सवाई माधोपुर सीट पर बीजेपी के सांसद किरोड़ी लाल मीणा कांग्रेस के विधायक दानिश अबरार से 9 चरणों की गिनती के बाद 10 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं.

जयपुर की विद्याधरनगर सीट से सांसद दीया कुमारी चुनाव जीत गई हैं. बीजेपी ने मौजूदा विधायक का टिकट काटकर सांसद दीया कुमारी को मैदान में उतारा था और उन्होंने कांग्रस के सीताराम अग्रवाल को हरा दिया है.

छत्तीसगढ़ में भी कई सांसदों की अटकी सांस

मध्य प्रदेश और राजस्थान की तरह छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह के अलावा सांसद विजय बघेल और अरुण साव को मैदान में उतारा है. साथ ही कांग्रेस मे सांसद दीपक बैज भी चुनाव लड़ रहे हैं.

केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह कोरिया जिले की भरतपुर-सोनहट सीट से चुनाव लड़ रही हैं. जबकि कांग्रेस की ओर से गुलाब सिंह कामरो मैदान में हैं. 2 दौर की गिनती के बाद रेणुका सिंह आगे निकल गई. 15 में से 8 दौर की गिनती के बाद रेणुका 4 हजार वोटों से आगे चल रही हैं.

पाटन सीट से लोकसभा सांसद विजय बघेल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सामने मैदान में हैं. यहां से विजय बघेल 3 दौर की मतगणना तक आगे चल रहे थे, लेकिन 8 दौर की गिनती के बाद अब भूपेश आगे निकल गए हैं.

मुंगेली जिले की लोरमी सीट से बीजेपी के सांसद अरुण साव चुनाव लड़ रहे हैं जबकि कांग्रेस के थानेश्वर साहू को मैदान में उतारा है. अरुण साव 10 दौर की मतगणना के बाद 25 हजार से भी अधिक वोटों से आगे चल रहे हैं.

इसी तरह कांग्रेस ने भी दीपक बैज ने चित्रकूट सीट से टिकट दिया है और उनके सामने बीजेपी के विनायक गोयल मैदान में हैं. सांसद दीपक बैज 10 दौर की मतगणना के बाद 4 हजार वोटों के अंतर से पीछे चल रहे हैं.