Home Bhopal झूठे केस में फंसाने की धमकी, खनिज अधिकारी ने कलेक्टर को भेजा...

झूठे केस में फंसाने की धमकी, खनिज अधिकारी ने कलेक्टर को भेजा इस्तीफा

44
0

Highlights:

  • एमपी के टीकमगढ़ में खनिज पदाधिकारी ने अपने पद से दिया इस्तीफा
  • खनिज अधिकारी को झूठे मुकदमे में फंसाने की मिल रही थी धमकी
  • धमकी के बाद अधिकारी ने कलेक्टर को भेजा हस्त लिखित इस्तीफा
  • आरोपी पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज थे खनिज अधिकारी

टीकमगढ़:  मप्र के टीकमगढ़ जिले में पदस्थ खनिज अधिकारी प्रशांत तिवारी को लगातार झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी मिल रही थी। धमकी देने वाले व्यक्ति के बारे में अधिकारी ने लिखित शिकायत की थी। उसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी। इससे नाराज खनिज अधिकारी ने टीकमगढ़ कलेक्टर को अपना इस्तीफा भेज दिया है।

खनिज अधिकारी प्रशांत तिवारी ने खुद से इस्तीफा लिखकर प्रमुख सचिव खनिज और टीकमगढ़ कलेक्टर हर्षिता सिंह को भेज दिया है। इस्तीफे की खबर वायरल होने के बाद एमपी के तमाम जिलों में खनिज विभागों में चर्चा का विषय बन गया। बीते कुछ दिनों पहले जब खनिज अधिकारी प्रशांत तिवारी कलेक्टर टीकमगढ़ हर्षिता सिंह से विभागीय काम से मिलने गए थे, इस दौरान उन्हें ओमप्रकाश प्रजापति नाम के व्यक्ति ने झूठे केस में फंसाने की धमकी दी थी।

इस मामले की खनिज अधिकारी द्वारा लिखित रूप से शिकायत भी की गई थी, लेकिन आज तक कार्रवाई न होने के चलते खनिज अधिकारी प्रशांत तिवारी ने इस्तीफा देने का फैसला किया। खनिज अधिकारी प्रशांत तिवारी ने कहा कि ओमप्रकाश नाम का व्यक्ति मुझ पर गलत तरीके से क्रेशर की लीज का दबाव बना रहा है। जब मैंने उससे यह कहा कि ये नियमानुसार नहीं, तो उसके द्वारा मुझे लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है। इसी से तंग आकर आज मैं स्वयं अपने इस पद से इस्तीफा दे रहा हूं।

फिलहाल इस सारे मामले में अब तक कलेक्टर टीकमगढ़ हर्षिता सिंह ने किसी भी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं दी है। अब देखना यह है कि श्री तिवारी का इस्तीफा मंजूर होता है या नहीं। तिवारी का आरोप है कि व्यक्ति लगातार मुझे परेशान कर रहा था।