Home Bhopal ‘पुष्प की अभिलाषा’ के 100 वर्ष पूरे होने पर एमसीयू करेगा वर्षभर साहित्यिक...

‘पुष्प की अभिलाषा’ के 100 वर्ष पूरे होने पर एमसीयू करेगा वर्षभर साहित्यिक आयोजन : प्रो. केजी सुरेश

96
0

बिसनखेड़ी स्थित नवनिर्मित परिसर में स्थापित होगी पंडित माखनलाल चतुर्वेदी की आदमकद प्रतिमा

 

भोपाल महान साहित्यकार एवं स्वतंत्रतासेनानी पंडित माखनलाल चतुर्वेदी की कविता ‘पुष्प की अभिलाषा’ के 100 वर्ष पूरे होने पर माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय वर्षभर साहित्यिक कार्यक्रम आयोजित करेगा। यह कार्यक्रम विश्वविद्यालय के नोएडा, खंडवा, रीवा और भोपाल परिसर सहित अन्य स्थानों पर किए जाएंगे। देश की राजधानी दिल्ली में भी इस श्रृंखला के अंतर्गत साहित्यकारों एवं पत्रकारों के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। बिसनखेड़ी स्थित विश्वविद्यालय के नवनिर्मित परिसर में दादा माखनलाल जी की विशालकाय प्रतिमा भी स्थापित की जाएगी। यह विचार कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने मध्यप्रदेश साहित्य अकादमी की ओर से निकाली गई साहित्यिक यात्रा में कही। दादा की कर्मभूमि खंडवा से लेकर उनकी जन्मभूमि बाबई (माखन नगर) तक निकाली गई साहित्य यात्रा के अंतर्गत बाबई में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो. सुरेश ने की।

 

            प्रो. कुलपति ने कहा कि दादा माखनलाल चतुर्वेदी ने साहित्य और पत्रकारिता के लिए जो मापदंड स्थापित किए थे, उन्हें समाज तक लेकर जाने का प्रयास उनके नाम पर स्थापित यह विश्वविद्यालय करेगा। दादा की कर्मभूमि खंडवा में हमारे विश्वविद्यालय का परिसर है और माखन नगर (बाबई) में पुस्तकालय है। उन्होंने कहा कि माखनलाल जी की जो पत्रकारिता है, वह निडर और निर्भीक थी। उन्होंने कभी भी कलम से समझौता नहीं किया। कुलपति ने कहा कि माखनलाल जी के संदेश और उनका व्यक्तित्व हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत है। आज फेक कंटेंट के दौर में तथ्य आधारित पत्रकारिता की आवश्यकता है। माखनलाल जी की पूरी पत्रकारिता तथ्य आधारित रही। उन्होंने समाज और देशहित के मुद्दों पर पत्रकारिता की। इस अवसर पर कुलपति प्रो. सुरेश ने माखन नगर (बाबई) में विश्वविद्यालय द्वारा स्थापित पुस्तकालय का भ्रमण भी किया और पौधारोपण किया। उनके साथ यात्रा में कुलसचिव प्रो. अविनाश वाजपेयी भी शामिल रहे।