Home Bhopal मप्र के आधे हिस्से में आंशिक राहत; भोपाल-इंदौर जैसे हॉटस्पॉट को रियायत...

मप्र के आधे हिस्से में आंशिक राहत; भोपाल-इंदौर जैसे हॉटस्पॉट को रियायत नहीं, रायसेन में 19 जमाती संक्रमित मिले

164
0
प्रतीकात्मक फोटो

भोपाल. मध्य प्रदेश के 26 जिलों के लिए राहतभरी खबर है। आज से यहां बाजार खुल जाएंगे। लोग अन्य जरूरी काम भी कर सकेंगे। हालांकि, मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। प्रदेश सरकार के अनुसार, जो जिले संक्रमण से मुक्त हैं वहां सभी तरह के कामकाज के साथ आर्थिक गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। जहां संक्रमण है, वहां के कंटेनमेंट इलाके में किसी को भी आने-जाने की इजाजत नहीं होगी। बाकी क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ढील रहेगी। इसके साथ ही हॉटस्पॉट बन चुके जिलों में सरकार ने किसी भी तरह की छूट नहीं दी है।

रायसेन में 19 जमाती संक्रमित मिले, ऑरेंज से रेड कैटेगरी में आया जिला
रायसेन जिला सुबह कोरोना की ऑरेंज (8 केस) कैटेगरी में था। दोपहर में 19 पॉजिटिव बढ़ने से रेड में शामिल हो गया। ये सभी जमाती हैं। पहले मिले 8 संक्रमितों में से 6 जमाती थे। यहां अब कोरोना के 27 मरीज हैं। रायसेन जिला संक्रमण के मामले में अब प्रदेश में छठवें स्थान पर आ गया है।
सोमवार को मिले संक्रमितों में से 9 रायसेन के पास अल्ली गांव के हैं। एक मरीज मऊपथरई गांव का है। 9 अन्य रायसेन के ही हैं। प्रदेश में सबसे ज्यादा संक्रमित इंदौर में हैं। इसके बाद भोपाल, खरगोन, खंडवा, उज्जैन और रायसेन का नंबर है।

रेड जोन: जहां 10 से ज्यादा केस
इंदौर, भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, मुरैना, बड़वानी, होशंगाबाद, खंडवा, धार, देवास, विदिशा, रायसेन और आगर मालवा जिलों में सरकार ने कोई छूट नहीं दी है। यहां लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा।

ऑरेंज जोन: जहां 10 के कम केस
राजगढ़, अलीराजपुर, टीकमगढ़, रतलाम, मंदसौर, शाजापुर, सागर, श्योपुर, बैतूल, छिंदवाड़ा, ग्वालियर और शिवपुरी। यहां लॉकडाइन के तहत जिला प्रशासन छूट के नियम तय करेंगे। यहां के कंटेनमेंट एरिया में आवाजाही और व्यावसायिक गतिविधियां प्रतिबंध रहेंगी।

ग्रीन जोन: जहां संक्रमण को कोई मामला नहीं आया
भिंड, गुना, अशोकनगर, दतिया, नीमच, झाबुआ, सीहोर, बुरहानपुर, हरदा, दमोह, पन्ना, छतरपुर, कटनी, सीधी, नरसिंहपुर, सिवनी, मंडला, बालाघाट, रीवा, सिंगरौली, सतना, उमरिया, डिंडोरी, शहडोल अनूपपुर, निवाड़ी। यहां लॉकडाउन लागू रहेगा। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य रहेगा। धारा 144 यथावत रहेगी। व्यावसायिक गतिविधियां आम दिनों की तरह चलेंगी।

मंत्रालय-निदेशालय में ढील नहीं  
राज्य में सोमवार से शासकीय कामकाज बढ़ाने और एक तिहाई अधिकारियों को दफ्तर बुलाने की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने साफ किया कि वल्लभ भवन (मंत्रालय) और निदेशालय (सतपुड़ा और विंध्याचल भवन) में अभी ढील नहीं मिलेगी। पहले की तरह जिन जरूरी विभागों में अफसर आ रहे हैं, वे ही आएंगे। बाकी घर से ही काम करेंगे। जिन अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव को लगता है कि किसी प्रथम या द्वितीय श्रेणी कर्मचारी को बुलाना है तो यह आदेश मौखिक होगा।

भोपाल में 27 नए मामले, इंदौर में 7 नए मरीज मिले
भोपाल में रविवार को 450 सैंपल की रिपोर्ट आईं। इनमें 27 संक्रमित मिले। शहर में पहली बार एक दिन में इतने पॉजिटिव मिले। इनमें दीनदयाल रसोई में काम करने वाला नगर निगम का कर्मचारी, एक दूधवाला, पांच जमाती, चार पुलिसकर्मी और चार बच्चे शामिल हैं। भोपाल में 9 दिन की बच्ची पॉजिटिव मिली है। सीजेरियन डिलेवरी करानी वाली डॉक्टर से उसे वायरस मिला। बच्ची की मां की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इंदौर में 7 नए मरीज मिले। यहां चार मरीजों की मौत भी हुई है।

कोटा में फंसे छात्र 1-2 दिन में आएंगे, 100 बसें भेजी जाएंगी

मेडिकल और इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए कोटा (राजस्थान ) पढ़ने गए करीब 2500 छात्र-छात्राओं को लाने की तैयारी हो रही है। एक-दो दिनों में 50 सीटर करीब 100 बसें भेजी जाएंगी। एक बस में 20 ही छात्र बैठेंगे। दूसरे राज्यों में फंसे मध्यप्रदेश के मजदूरों को भी लाने की तैयारी है। राज्य की सीमा पर उनकी स्क्रीनिंग की जाएगी। जरूरत पड़ी तो उन्हें कुछ समय के लिए वहीं रखा जा सकता है।

राज्य में कितने संक्रमित, कितनी मौत, कितने ठीक हुए

  • अब तक 1407 संक्रमित: इंदौर में 890, भोपाल में 214, खरगोन में 43, खंडवा में 32, बड़वानी में 24, धार में 21, उज्जैन में 31, होशंगाबाद 24, देवास में 19, जबलपुर में 20, मुरैना में 16, विदिशा में 13, रतलाम में 9, मंदसौर में 8, रायसेन में 7, ग्वालियर में 6, शाजापुर में 5, आगर मालवा में 6, अलीराजपुर में 3, श्योपुर-छिंदवाड़ा में 4-4, शिवपुरी-सागर में 2-2, बैतूल, टीकमगढ़-राजगढ़ में 1-1 संक्रमित है। एक यूपी का भी संक्रमित है।
  • 72 की मौत: इंदौर 50, भोपाल 6, उज्जैन 6, देवास 5, खरगोन 3, छिंदवाड़ा-मंदसौर में एक-एक मौत हुई।
  • 131 मरीज ठीक हुए: इंदौर 71, मुरैना 7, जबलपुर-ग्वालियर 6-6, उज्जैन 5, भोपाल 31, खरगोन में 3 और शिवपुरी में 2 मरीज की इलाज के बाद अस्पताल से छुट्‌टी हो गई है। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 19 अप्रैल 2020 को जारी बुलेटिन के अनुसार)

जिला प्रशासन द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, इंदौर में 897, भोपाल में 235 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जबकि इंदौर में 52, भोपाल में 7 की कोरोना से मौत हुई।

इंदौर में बेकाबू कोरोना, मरीजों की संख्या पहुंची 897
मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी और मिनी मुंबई के नाम से मशहूर इंदौर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में 897 पॉजिटिव केस मिले हैं, जिनमें से अब तक 52 की मौत हो चुकी है। जबकि 71 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं।

भोपाल में अब तक 7 लोगों की मौत
वहीं, राजधानी भोपाल में अब तक 254 लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं. इनमें से 7 की मौत हो गई है। जबकि 31 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौट चुके हैं।