Home Jhabua झाबुआ के रोहीदास मार्ग में चर्च कॉलोनी की एक युवती ने घर...

झाबुआ के रोहीदास मार्ग में चर्च कॉलोनी की एक युवती ने घर के अंदर की आत्महत्या युवती के परिवारजनों ने रोहीदास मार्ग में घर के बाहर किया जमकर हंगामा

64
0

पुलिस एवं प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने दी समझाईश
मध्य रात करीब 1.15 बजे परिवारजनों की मौजूदगी में पुलिस ने जांच बाद डेडबॉडी को घर से निकलवाकर जिला चिकित्सालय पहुंचाया

झाबुआ। राकेश पोद्दार। शहर के रोहिदास मार्ग में 28 दिसंबर बुधवार, रात करीब 9.30 बजे उस समय हंगामा एवं गहमागहमी भरा माहौल निर्मित हो गया, जब एक घर में युवती द्वारा फांसी लगाने का मामला आसपास के रहवासियों के साथ पुलिस को लगने पर मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई। लड़की के परिवारजनों के साथ पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी पहुंचे।
सुत्रो से मिली जानकारी के अनुसार नगर के चर्च मोहल्ले की युवती द्वारा रोहिदास मार्ग मे रहने वाले युवक के घर जाकर अपने जीवन लीला समाप्त कर ली। इसी बीच युवती के परिजनों ने भी मौके पर घटना से अत्यधिक क्षुब्ध होकर जमकर हंगामा किया एवं मांग की कि घटना में निष्पक्ष जांच होकर आरोपी पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो। करीब 2 घंटे बहस एवं गहमागहमी होने के बाद स्पेशल टीम की मदद से पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों ने मकान का ताला तोड़कर अंदर प्रवेश कर पूरी जांच कर डेडबॉडी को कमरे से बरामद किया। पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय मध्य रात्रि 1.15 बजे शव वाहन से भिजवाया गया।

लड़के के घर जाकर कमरा बंद करके की आत्महत्या
सुत्रा से मिली जानकारी के अनुसार चर्च कॉलोनी में रहने वाली अक्षिता पिता कुलदीप बिलवाल (रविना) उम्र करीब 23 वर्ष, बुधवार शाम करीब 8 बजे अपने दो पहिया वाहन एक्टिवा क्रमांक एमपी-45, एम एल-3803 से रविदास मार्ग में कपड़ा व्यवसायी के निवास पर पहुंची। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जहां युवती की काफी देर तक परिवारजनों से घर के अंदर बहस के बाद इसी बीच अक्षिता ने मकान के द्वितीय तल के कमरे में फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी। इसी बीच आसपास के रहवासियों के साथ पुलिस को भी सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस प्रशासन के अधिकारियों में एएसपी पीएल कुर्वे, एसडीओपी बबीता बामनिया, आरआई ठाकुर रणजीतसिंह के साथ अन्य पुलिस अधिकारी एवं प्रशासन से तहसीलदार आशीष राठौर आदि पहुंचे। इस दौरान घर के बाहर लोगों की भारी भीड़ जमा रहीं। लड़की के परिवारजनों को भी जानकारी मिलने पर वह मौके पर पहुंचे।

पुलिस के लिए पूरा मामला जांच का विषय
घटना से अत्यधिक क्षुब्ध तथा नाराजगी जाहिर करते हुए पुलिस प्रशासन से उन्होंने तीखी बहस की और पूरे मामले में निष्पक्ष जांच के साथ आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की। करीब डेढ़ घंटे बहस के बाद पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने स्पेश टीम के साथ घर का ताला तोड़कर अंदर प्रवेश कर लड़की के शव को नीचे उतारकर पूरी जांच के बाद मध्य रात ही जिला चिकित्सालय भिजवाया। जहां गुरुवार सुबह से चिकित्सालय में पीएम की प्रक्रिया जारी है। पूरा मामला पुलिस के लिए गहन जांच का विषय है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस को पूरे मामले में निष्पक्ष जांच कर वास्तविक स्थिति का पता लगाकर कार्रवाई की जाना आवश्यक है। वहीं लड़की के परिवारजनों की ओर से भी पुलिस प्रशासन एवं जिला प्रशासन से पूरे घटनाक्रम में निष्पक्ष जांच कर दोषियों पर सख्ती से कार्रवाई की मांग रखी गई है। ज्ञातव्य है कि अक्षिता वर्तमान में पीएससी की तैयारी कर रही थी और उनके दो भाई के साथ भरापूरा परिवार है। जांच करने के दौरान पुलिस को सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। वहीं शव का पोस्टमार्टम गुरूवार दोपहर करीब 1 बजे होने के बाद परिवारजनों को सुपुर्द कर दिया गया। दोपहर करीब 3.30 बजे चर्च काॅलोनी में निवास स्थान से फयूनरल निकालकर गैल के समीप कब्रिस्तान में दफनाने की विधि पूर्ण हुई।
इनका कहना है
– घटना में फिलहाल मर्ग कायम किया गया है, पूरे मामले में जांच की जा रही है। टीम गठित की गई है। साक्ष्य के आधार पर वास्तविक स्थिति का पता लगाकर कार्रवाई की जाएगी।
पीएल कुर्वे, एएसपी झाबुआ।