Home Jhabua रक्षाबंधन को लेकर दो दिन बना रहा उत्साह बहनो ने बांधी भाईयो...

रक्षाबंधन को लेकर दो दिन बना रहा उत्साह बहनो ने बांधी भाईयो की कलाई पर रक्षासुत्र

19
0

बाजारों में रहीं विशेष रौनक, भद्रा को लेकर इस बार दो दिन मनाया गया रक्षाबंधन पर्व

झाबुआ। राकेश पोद्दार। शहर में 11 अगस्त, गुरूवार एवं 12 अगस्त, शुक्रवार, दो दिन रक्षाबंधन का पावन पर्व मनाया गया। शुभ मुर्हुत में बहनों ने भाईयों की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधा। बदले में भाईयों ने बहनों को उपहार देकर उनकी आजीवन रक्षा का वचन दिया। इस बार नक्षत्र भद्रा को लेकर दो दिन रक्षाबंधन पर्व मनाया गया। गुरूवार एवं शुक्रवार को पर्व को लेकर दिनभर बाजारों में विशेष रौनक देखने को मिली। दिनभर खरीददारी का दौर चला।
केलेंडर अनुसार रक्षाबंधन पर्व 11 अगस्त को होने से अलसुबह से ही बाजारों में शहरी सहित ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों की भीड़ देखने को मिली। बाजार में जगह-जगह सजी राखियों की दुकानों पर बहनों ने भाईयों के लिए रक्षा-सूत्र खरीदे। इसके अलावा बाजार में कपड़ों, आभूषण, किराना दुकान और एव्हरफ्रेश दुकान पर भी दिनभर भीड़ रहीं। नारियल ठेलागाड़ियों पर आवाज लगाकर बिके। रक्षाबंधन को लेकर होटल व्यवसाईयों ने विशेष मिष्ठान तैयार किए, जिनकी भी लोगों ने जमकर खरीदी की। इसी प्रकार का उत्साह और उल्लास 12 अगस्त, शुक्रवार को भी लोगांे में नजर आया।
स्टोन और रूद्राक्ष वाली राखियों की मांग अधिक
पिछले 22 वर्षों से राखी का व्यवसाय कर रहे हेमेन्द्र ‘‘नानाभाई’’ राठौर ने बताया कि इस वर्ष राखियों के भाव में बढ़ोत्तरी हुई है, लेकिन उसका ग्राहकी पर कोई असर नहीं पड़ा है। पिछले 2 वर्ष कोरोनाकाल के कारण लोग उत्साहपूर्वक रक्षाबंधन पर्व नहीं मना सके थे, लेकिन इस वर्ष कोरोना-मुक्त रक्षाबंधन होने से लोगांे में उत्साह अधिक रहा। लोगों ने फैशनबेल राखियों में स्टोन, रूद्राक्ष, मोती वाली राखियां अधिक खरीदी।ाखियों में उनकी दुकान पर 15 से लेकर 500 रू. तक की वैराईटियां उपलब्ध रहीं।
भद्रा के कारण मुर्हुत कम
युवा ज्योतिषाचार्य पं. जैमिनी शुक्ला ने बताया कि इस वर्ष 11 अगस्त रक्षाबंधन के दिन नक्षत्र भद्रा होने से शुभ मुर्हुत कम रहे। भद्रा का प्रभाव 12 अगस्त को सुबह तक रहा। इसके बाद लोगांे ने शुक्रवार को भी रक्षाबंधन पर्व मनाते हुए इस दिन बहनों ने भाईयांें की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधा। शहर में दो दिन रक्षाबंधन का उत्साह रहा।