Home Jhabua पेयजल की समस्याग्रस्त ग्रामों का चिन्हांकन कर तत्काल पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करे-...

पेयजल की समस्याग्रस्त ग्रामों का चिन्हांकन कर तत्काल पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करे- कलेक्टर श्रीमती रजनी सिंह

13
0

समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक आयोजित

झाबुआ। राकेश पोद्दार। कलेक्टर श्रीमती रजनी सिंह की अध्यक्षता में समयावधि पत्रों (टीएल) की बैठक आयोजित थी। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अमन वैष्णव, एडीएम एसएस मुजाल्दा, एसडीएम पेटलावद अनिल कुमार राठौर, एसडीएम थांदला तरूण कुमार जैन, एसडीएम मेघनगर श्रीमती अकिंता प्रजापति, डिप्टी कलेक्टर एलएन गर्ग समस्त तहसीलदार, समस्त सीएमओ, समस्त सीईओ जनपद पंचायत एवं जिला अधिकारी उपस्थित थे।
श्रीमती सिंह ने निर्देश दिये कि पेयजल की समस्याग्रस्त ग्रामों का चिन्हांकन कर तत्काल पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करे। सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई, समयावधि पत्रो वरिष्ठ कार्यालय से प्राप्त आवेदन, माननीय मुख्यमंत्रीजी के भ्रमण के दौरान प्राप्त आवेदनों का तत्काल निराकरण सुनिश्चित करे। आगामी टीएल के पूर्व निराकरण प्रतिवेदन समक्ष में प्रस्तुत करे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत विशेष प्राथमिकता के आधार पर प्रकरणों का निराकरण सुनिश्चित करे। राजस्व मामले के प्रकरण जो सीएम हेल्पलाइन में लबिंत है, उन्हे सज्ञान में लेकर जल्द से जल्द पेशी लगाकर निराकरण करे। आगामी मंगलवार को समाधान आॅनलाइन की बैठक संभावित है। इससे संबधित विषय एवं आवेदन पत्रों का निराकरण सुनिश्चित करे। लाडली बहना योजना के लिये दिये गये निर्देशों के अनुसार तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करे। लंबित शिकायतों के निराकरण समयसीमा में नहीं होने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।
शासन के निर्देशानुसार एवं आमजन के लिये आयुष्मान कार्ड जो ग्रामों में शहरों के वार्डो में लंबित है, उन्हें इस समय जब पलायन पर गयें, ग्रामीण वापस आये है इस समय अभियान के तौर पर कैम्प लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाये। लाडली बहना योजना के प्रकरण तैयार करे। जहां पर बायोमैट्रिक मशीन है, वहां कैम्प लगाकर बनाये एवं जहां बायोमैट्रिक मशीन नहीं है तत्काल क्रय कर कार्यवाही सुनिश्चित करे। इसके अतिरिक्त जहां नेटवर्क समस्या है, वहां डार्कस्पाट चिन्हित करे एवं आॅफलाइन करने के लिये राज्य शासन से अनुमति की कार्यवाही सुनिश्चित करे। एप के माध्यम से भी आयुष्मान कार्ड बनाये जाने की कार्यवाही सुनिश्चित करे। लाडली बहना योजना के प्रकरण तैयार करने के लिये किसी भी प्रकार के दस्तावेज नही मागे जाये केवल आधार से बैंक खाता लिंक करवाना है एवं आवेदक महिला के पास स्वयं का मोबाइल बैंक से एवं आधार से लिंक होना चाहिये। इस संबध में आवेदन पत्र प्रिन्ट कर भेजे जा रहे है, जो 25 मार्च से आरम्भ होगे।
सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण के लिए श्रीमती सिंह ने निर्देश दिए कि विभाग अपने शिविर लगाएं। नाॅनअटेंड शिकायतें होने पर सख्त कार्यवाही की जावेगी। इस सप्ताह शत प्रतिशत शिकायतों का निराकरण हो जाएं इस प्रकार की कार्यवाही की जाएं। निम्न गुणवत्तापूर्ण जवाब दर्ज नहीं करें। सीएम हेल्पलाईन में 50 दिवस से अधिक लंबित शिकायतों का जल्द से जल्द निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें। सी.एम. हेल्पलाईन में 100 दिवस, 300 दिवस व 500 दिवस से अधिक लंबित शिकायतों को जल्द से जल्द निराकरण करना सुनिश्चित करें। प्रति माह के प्रथम एवं द्वितिय सप्ताह में अभियान चलाकर सभी विभाग सीएम हेल्पलाईन का निराकरण करेंगें। प्रधानमंत्री आवास योजना के आवेदन के संबध में यह निर्धारित कर लिया जाये कि आवेदक पात्र है या अपात्र है इस आधार पर तत्काल निराकरण करे। सम्बल योजना के प्रकरणों का समय सीमा में निराकरण करे।
श्रीमती सिंह ने निर्देश दिये की समायवधि पत्रों, सीएम हेल्पलाइन, सीएम विजिट के प्रकरणों का निर्धारित अवधि में निराकरण करें एवं प्रतिवेदन को पोर्टल पर दर्ज करे। प्रत्येक जिला अधिकारी प्रातः एक घंटा सीएम हेल्पलाइन देखे। समयावधि पत्रों एवं जनसुनवाई के प्रकरणों में निराकरण तत्काल किया जाना सुनिश्चित करे। श्रीमती सिंह द्वारा यह भी निर्देश दिये गये की सी.एम. हेल्पलाईन में दर्ज शिकायत का निराकरण एल-1 स्तर पर ही कर लिया जाए।
श्रीमती सिंह ने निर्देश दिए कि भू-माफिया, शराब माफिया मिलावटखोरों, खनिज माफिया, अतिक्रमण करने वालों पर निरन्तर दण्डात्मक कार्यवाही की जाए। विधानसभा प्रश्नों का निराकरण तथ्यात्मक रूप से किया जाये। जिला अधिकारी जवाब प्रस्तुत करने से पहले अच्छे से अध्ययन कर ले। निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देवे। जिन निर्माण कार्याे की राशि प्राप्त हो चूकि है उन्हें तत्काल प्रारम्भ किया जाये अन्यथा राशि लेप्स हो जायेगी जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी कार्यालय प्रमुख की मानी जायेगी। एनआरसी में भर्ती बच्चों की नियमित जाॅच एवं पोष्टीक आहार समय पर उपलब्ध कराये।
बैठक में जिले के सभी विभागों के द्वारा सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जे.पी.एस. ठाकुर, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग श्री गणेश भाभर एवं समस्त जिला अधिकारी उपस्थित थे। वीडियो काफ्रंसिग के माध्यम से बीएमओ उपस्थित थे।