Home National चीनी कंपनी Alibaba के संस्थापक Jack Ma को गुरुग्राम कोर्ट ने भेजा...

चीनी कंपनी Alibaba के संस्थापक Jack Ma को गुरुग्राम कोर्ट ने भेजा समन, जानिए मामला

73
0
Representative Image

गुरुग्राम। दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियों में शुमार चीनी कंपनी अलीबाबा और उसके संस्थापक जैक मा को समन जारी किया गया है। गुरुग्राम की सिविल जज सोनिया श्योकंद की अदालत ने यह समन कंपनी के पूर्व एसोसिएट डायरेक्टर पुष्पेंद्र सिंह परमार की अर्जी के बाद जारी किया है। दरअसल, उन्होंने आरोप लगाया है कि ऐप पर फर्जी खबर देखकर आपत्ति उठाने की वजह से उन्हें गलत तरीके से कंपनी से निकाल दिया गया।

 

वह अलीबाबा के यूसी वेब के एसोसिएट डायरेक्टर थे। कंपनी ने 30 अक्टूबर 2017 में उनको निकाल दिया था। परमार ने 20 जुलाई को गुरुग्राम की अदालत में अर्जी दाखिल की थी। इस पर अदालत ने कंपनी के संस्थापक जैक मा सहित 10 अधिकारियों के खिलाफ समन जारी करते हुए पेश होने या फिर कंपनी द्वारा 29 जुलाई को वकील के माध्यम से दस्तावेज दिखाने को कहा है। 30 दिन के भीतर आरोपितों को अपना जवाब लिखित में देना होगा। परमार ने हर्जाने के रूप में करीब दो करोड़ रुपए की मांग की है। उनके अधिवक्ता अतुल अहलावत ने बताया कि 20 जुलाई को अर्जी दाखिल करने के दिन ही अदालत ने सुनवाई की थी।

पूर्व एसोसिएट डायरेक्टर के आरोप

वर्ष 2017 के दौरान एक पोस्ट डालकर कहा गया था कि आज आधी रात से 2000 रुपए के नोटों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। साल 2018 के दौरान एक पोस्ट की हेडलाइन थी- अभी-अभी भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध छिड़ गया है। देशों के बीच सीमा पर गोलीबारी की बात कही गई थी, जबकि भारत ने न ही दो हजार रुपए के नोटों पर प्रतिबंध लगाया और न ही वर्ष 2018 के दौरान भारत-पाकिस्तान के बीच कोई युद्ध हुआ था।

कर्मचारियों की छंटनी कर रही चीनी कंपनी

एनालिटिक्स फर्म सेंसर्स टॉवर के आंकड़ों के मुताबिक भारत में यूसी ब्राउजर को कम से कम 68.90 करोड़ बार डाउनलोड किया गया था, जबकि यूसी न्यूज के 7.98 करोड़ डाउनलोड किए गए थे। अधिकांश डाउनलोड वर्ष 2017 से 2018 के दौरान किए गए थे। हाल ही में सुरक्षा कारणों से भारत ने अलीबाबा के यूसी न्यूज, यूसी ब्राउजर और 57 अन्य चीनी एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है।