Home Bhopal Exit Poll: MP, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में BJP ने फिर दिखाया दम,...

Exit Poll: MP, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में BJP ने फिर दिखाया दम, कांग्रेस की बढ़ाई मुश्किलें | Vidhansabha Chunav exit-poll-survey 2023 bjp great comeback fight congress MP rajasthan

16
0
Exit Poll: MP, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में BJP ने फिर दिखाया दम, कांग्रेस की बढ़ाई मुश्किलें

Exit Poll सर्वे में हिंदी बेल्ट राज्यों में बीजेपी को नुकसान नहीं होता दिख रहा

इंतजार की घड़ियां अब खत्म होने को है. राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ समेत 5 राज्यों में हुए चुनाव के परिणाम सामने आने में अब 48 घंटे से भी कम का समय रह गया है. तेलंगाना में कल गुरुवार को हुई वोटिंग के बाद सामने आए एग्जिट पोल सर्वे में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं. कई सर्वे में मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनती दिख रही है तो राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की वापसी तय मानी जा रही है. हालांकि इन सभी सर्वे में यह बात भी साफ है कि बीजेपी का प्रदर्शन इस चुनाव में भी उतना खराब नहीं होने जा रहा जितना की अनुमान लगाया गया था.

Polstrat, सी वोटर और ईटीजी के एग्जिट पोल सर्वे में दावा किया गया है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती दिख रही है. हालांकि यहां सत्तारुढ़ बीजेपी को खास नुकसान नहीं हुआ है. Polstrat ने कांग्रेस के खाते में 111 से 121 सीट जाने का अनुमान जताया है तो सी वोटर सर्वे में कांग्रेस को 113 से 137 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है. इसी तरह ईटीजी के सर्वे में कांग्रेस के खाते में 109 से 125 मिलने की बात कही गई है. टुडेज चाणक्या ने तो बीजेपी को 230 में से 151 सीटें मिलने का दावा किया है.

कुछ सर्वे में MP में भी BJP की सरकार

इन चारों ही सर्वे में कांग्रेस को बहुमत मिलता दिखाया गया है तो बीजेपी भी कड़ी चुनौती पेश करती दिख रही है. Polstrat के सर्वे में बीजेपी का प्रदर्शन बहुत खराब नहीं है और उसके पास 106 से 116 सीटें जाती दिख रही हैं. ईटीजी के सर्वे में बीजेपी को 105 से 117 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है. सी वोटर के सर्वे में बीजेपी 88 से 112 सीटों के बीच रह सकती है.

हालांकि कुछ एग्जिट पोल सर्वे तो बीजेपी को मध्य प्रदेश में फिर से सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं. एक्सिस माय इंडिया के सर्वे में बीजेपी को 140 से 162 सीटें मिलने की बात कही गई है जबकि सीएनएक्स का दावा है कि बीजेपी को 140 से 159 सीटें मिलेंगी. मैट्रिज ने भी अपने एग्जिट पोल सर्वे में बीजेपी को 118 से 130 सीटें मिलने की बात कही है.

राजस्थान में भी सत्ता में लौट रही BJP

अब बात अगर राजस्थान की करें तो यहां पर भी कुछ सर्वे में कांग्रेस को तो कुछ सर्वे में बीजेपी को जीतता दिखा रहे हैं. Polstrat सर्वे में बीजेपी राजस्थान में 199 सीटों में से 100 से 110 सीटों पर जीत हासिल करती दिख रही है. जबकि सी वोटर सर्वे में बीजेपी को 94 से 114 सीटें मिल रही हैं. मैट्रिज ने बीजेपी के खाते में 115 से 130 सीटें जाने का अनुमान जताया है. ईटीजी ने भी बीजेपी के फिर से सत्ता में लौटने का अनुमान जताया है. राजस्थान में अगर ये सर्वे सही रहे तो हर 5 साल में यहां पर सत्ता बदलने का रिवाज इस बार भी कायम रह सकता है.

हालांकि एक्सिस माय इंडिया ने राजस्थान में कांग्रेस की जीत का दावा किया गया है. सर्वे के अनुसार, कांग्रेस को यहां पर 86 से 106 सीटें मिल सकती हैं. सीएनएक्स ने भी दावा किया है कि कांग्रेस की सत्ता बरकरार रहेगी. टुडेज चाणक्या ने भी कांग्रेस की सरकार बनने का दावा किया है. चाणक्या के अनुसार, बीजेपी को यहां पर 89 सीटें मिलने का अनुमान है तो कांग्रेस के खाते में 101 सीटें जा सकती हैं.

छत्तीसगढ़ में फिर से कांग्रेस सरकार

छत्तीसगढ़ को लेकर ज्यातादर सर्वे में कांग्रेस की फिर से सरकार बनने का दावा किया गया है. Polstrat के सर्वे में कांग्रेस को 40 से 50 सीटें मिलने की बात कही गई है तो टुडेज चाणक्या के सर्वे में राज्य में कांग्रेस के खाते में 57 सीटें आने का दावा किया गया है. सी वोटर और ईटीजी के एग्जिट पोल सर्वे भी कांग्रेस की ओर से सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं.

इन तीनों हिंदी बेल्ट राज्यों में चुनाव बाद आए सर्वे से एक बात साफ हो गई कि बीजेपी का जनाधार कम नहीं हुआ है. इन तीनों ही राज्यों में अभी भी बीजेपी मजबूत स्थिति में है और कांग्रेस को लगातार चुनौती दे रही है. राजस्थान में 200 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी भी कांग्रेस से पीछे नहीं है और लगातार टक्कर दे रही है. लगभग सभी सर्वे में कांग्रेस को जीत के लिए पसीना बहाना पड़ सकता है. दोनों ही दलों को 100 के आसपास सीटें मिल रही हैं.

BJP के खिलाफ नहीं दिखी नाराजगी

इसी तरह मध्य प्रदेश में 230 सदस्यीय विधानसभा में लगभग हर सर्वे में बीजेपी को 100 के आसपास सीटें मिल रही हैं. 2020 में कांग्रेस में हुए बड़े दलबदल के बाद जिस तरह से बीजेपी ने राज्य में सत्ता हथियाई थी, उसे लेकर आमलोगों में नाराजगी जताई जा रही थी. माना जा रहा था कि बीजेपी को इसका नुकसान उठाना पड़ सकता है, लेकिन अब सर्वे यह बता रहे हैं कि 2020 की घटना का इस चुनाव में खास असर नहीं पड़ा.

इसे भी पढ़ें — Exit Poll और GDP के रथ पर सवार, रिकॉर्ड हाई पर शेयर बाजार

साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ-साथ कैबिनेट के कई मंत्रियों ने लगातार चुनावी रैलियां कीं, उसका असर चुनाव में दिख रहा है. एक बात और, बीजेपी ने चुनाव में जिस तरह से 3 केंद्रीय मंत्रियों समेत 7 सांसदों को मैदान में उतार दिया था, उसका भी असर उसे पॉजिटिव फायदा मिला. साथ ही बीजेपी ने प्रदेश की सियासत के हैवीवेट नेता कैलाश विजयवर्गीय को भी मैदान में उतार दिया. वो लंबे समय बाद चुनाव लड़ रहे हैं. बीजेपी के अच्छे प्रदर्शन ने आगे के लिए कांग्रेस की मुश्किलें भी बढ़ा दी हैं और उसे लोकसभा चुनाव के लिए नए सिरे से रणनीति बनानी पड़ सकती है.

इसे भी पढ़ें — MP Exit Poll: ओबीसी का दांव उल्टा, गारंटी की टाइमिंग और बगावतप्रदेश में कांग्रेस की हार के कारण

ऐसे में माना जा सकता है कि इन राज्यों में बीजेपी के खिलाफ ज्यादा नाराजगी नहीं दिख रही है और जो थोड़ी बहुत थी उसे पार्टी के आलानेताओं ने ताबड़तोड़ चुनावी प्रचार कर खत्म करने में कामयाबी हासिल पाई है. हालांकि यह महज एग्जिट पोल सर्वे है और असली परिणाम तो रविवार (3 दिसंबर) को आएगा, जिससे पता चलेगा कि चुनाव बाद कराए गए एग्जिट सर्वे के परिणाम कितने सच साबित हुए हैं.