Home Jhabua आंशिक छूट मिलने पर बाजारो में दिखी भीड सोष्यल डिस्टेंसिंग का नही...

आंशिक छूट मिलने पर बाजारो में दिखी भीड सोष्यल डिस्टेंसिंग का नही हुआ पालन कही ये छुट झाबुआ जिले पर न पड जाये भारी

50
0

झाबुआ।(राकेश पोद्दार । नगर संवाददाता। झाबुआ जिले के लिये सोमवार की सुबह एक राहत भरी रही। लेकिन जैसी ही बाजारो में दुकानो की शटर खुलना शुरू हुई वैसे ही लोगो की भीड दिखाई देने लगी। वही कई दुकानेा पर तो लोगो के द्वारा सामानो के लिये भीड जमा होने लगी वही कही तो सोश्यल डिस्टेंसिंग की धज्जियां तक उडा दी गई।
जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन सहित स्वास्थ्य विभाग की जीतौड मेहनत से विगत दो माह से सतत कोरोना संक्रमण को कम करने की अथक प्रयास की गई जिस पर से झाबुआ जिला आज टाॅप के 5 जिलो में शामिल हो पाया है। वही नगरवासियो के द्वारा भी कोरोना कफ्र्यू का पालन करने में सहभागीता पूर्ण रूप से रही। ऐसे में यदि एक छोटी सी भूल भी पुरे जिले को कही संक्रमित ना कर दे इसके लिये जरूरी है कि लोगो को कम से कम मास्क पहनने की हिदायत दी जाये। सोश्यल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा जाये वही दुकानदार थोडा सख्ती बरते ओर बिना मास्क पहने लोगो को सामान ना दे तो ही कोरोना संक्रमण पर पूर्ण विजय हासिल की जा सकती है। वरना एक छोटी सी भूल ही पूरे जिले के लिये घातक सिद्ध हो सकती है।

रविवार को तो 8 मरीज ही संक्रमित मिले हैं जबकि 90 मरीज स्वस्थ होकर लौट चुके हैं। अब संक्रमितों की संख्या 108 ही रह गई है। इनमें से 76 मरीज होम आइसोलेकर अपना उपचार करवा रहे हैं। मात्र 11 मरीज ही जिला अस्पताल में भर्ती हैं। वे भी सामान्य स्थिति में बताए जा रहे हैं। अभी भी सावधानी रखने की जरूरत है। अगर सावधानी नहीं रखी गई तो संक्रमण फिर से हावी हो सकता है। सभी को चाहिए कि गाइड लाइन का पालन करें।
इस वर्ष का अप्रैल माह संक्रमण को लेकर हमेशा याद किया जाएगा। क्योंकि अप्रैल माह में इतना संक्रमण बढ़ गया था कि जिला अस्पताल में भर्ती करने के लिए पलंग कम पड़ने लगे थे। स्थिति यह हो गई थी कि बरामदों में मरीजों को भर्ती करना पड़ा। शुरुआत में आक्सीजन की कमी भी देखने को मिली थी, लेकिन धीरे-धीरे स्थिति संभाल ली गई। अब जिले में संक्रमण कम हो गया है।
कोरोना अपडेट
8 संक्रमित रविवार को मिले- 90 स्वस्थ होकर लौटे- 7575 हो गई संक्रमितों की संख्या- 7418 अब तक हुए स्वस्थ- 00 मौत पिछले 24 घंटों में- 49 मौतें जिले में अब तक हुई है ।
जांचें अधिक, मामले कम
फिलहाल जिले में राहत मिल रही है। प्रतिदिन 500 से 600 जांचें हो रही हैं। रविवार को 719 जांचों में से 8 मरीज ही संक्रमित मिले हैं। आंकड़ों से स्पष्ट होता है कि अब संक्रमण लगातार कम होता जा रहा है। जिले में अब 108 मरीज ही संक्रमित रह गए हैं। बाकी सभी मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।
ब्लैक फंगस एक भी नहीं
जिले में सुकून भरी बात यह है कि संक्रमण के मामले अप्रैल माह में अधिक होने के बाद भी ब्लैक फंगस का मामला अब तक जिले में सामने नहीं आया है। हालांकि जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने फंगस को लेकर पहले से ही तैयारियां कर रखी हैं। जिला अस्पताल में आने वाले मरीजों को उपचार के लिए इंदौर भेजा जाएगा क्योंकि जिला अस्पताल के नेत्र चिकित्सालय में इसकी उपचार की कोई व्यवस्था नहीं है।
बाजार खुले अब रखनी होगी सावधानी
इधर पुलिस विभाग द्वारा लगातार मुनादी कर सावधानी रखने की अपील की जा रही है। रविवार को भी पुलिस विभाग द्वारा मुनादी कर लोगों को सावधान रहने की अपील की गई। थाना प्रभारी सुरेंद्रसिंह का कहना है कि सावधानी ही संक्रमण से बचने का उपाय है । सभी शारीरिक दूरी का पालन करें, जरूरत पड़ने पर ही घर से निकलें। मास्क पहनना न भूलें तभी हम कोरोना को हरा सकते हैं। सभी के सहयोग से यह जंग जीती जा सकती है। सोमवार से कलेक्टर द्वारा जारी आदेश के अनुसार झाबुआ जिले में बाजारों को आंशिक तौर पर अर्थात प्रातः 8 बजे से दोपहर 3 बजे तक के लिये सशर्ते खोले जाने के आदेश जारी कर देने से सोमवार को फिर से नगर में भीड भाड दिखाई देने लगी हैै। दुकानों पर सोश्यल डिस्टेंसिंग का कोइ्र भी पालन करता हूंआ नही दिखाई दिया । तय है यही हालात रहे तो कोराना दस्तक देने में देर नही करेगा । इसके लिये प्रशासन को यथेष्ठ कदम उठाने की दरकार है ।
गाइड लाइन का पालन करें
जिला अस्पताल के डाॅ. सावन चैहान का कहना है कि गाइड लाइन का अगर पालन किया जाए तो संक्रमण से दूर रहा जा सकता है। सभी को सावधानी बरतनी चाहिए तभी हम यह जंग जीत सकते हैं।