Home Hoshangabad होशंगाबाद: जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समूह की बैठक संपन्न, गेहूं खरीदी के संबंध...

होशंगाबाद: जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समूह की बैठक संपन्न, गेहूं खरीदी के संबंध में हुई चर्चा

131
0

होशंगाबाद: कलेक्टर धनंजय सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समूह की बैठक संपन्न हुई। बैठक में विधायकगण विजयपाल सिंह, प्रेमशंकर वर्मा, ठाकुरदास नागवंशी व  कुशल पटेल एवं पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह गौर, जिला पंचायत सीईओ आदित्य सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।

बैठक में कलेक्टर सिंह ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु जिले में की गई तैयारियों के संबंध में अवगत कराया। उन्होने बताया कि जिले में 32 रैपिड रिस्पान्स टीम गठित किये है जिनके माध्यम से कोरोना वायरस संबंधि स्क्रीनिंग व कोरोना संदिग्ध व्यक्ति की सूचना प्राप्त होने पर टीम द्वारा त्वरित मौके पर पहुँचकर सैम्पलिंग एवं कोरोन्टाईन का कार्य किया जा रहा है। इटारसी नगर में कोरोना संक्रमित क्षेत्र में 5 कंटेंमेन्ट जोन देशबंधुपुरा, जीन मोहल्ला, गांधी नगर, जाटव मोहल्ला एवं हॉजी मोहल्ला चिन्हित किए गए हैं। इन चिन्हित क्षेत्रो में कोरोना संक्रमित मरीजो के घरो को एपी सेंटर घोषित करते हुए इन घरो से एक किलो मीटर की परिधि को कंटेनमेंट जोन एवं 3 किलोमीटर में बफर जोन बनाया गया है। कंटेन्मेंट जोन में कोरोना वायरस के प्रसार की रोकथाम हेतु क्लस्टर कंटेनमेंट प्लान का प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा है। इन जोन में आमजनो की आवाजाही पूर्णत: प्रतिबंधित की गई है एवं सीसीटीव्ही एवं ड्रोन के माध्यम से सतत निगरानी रखी जा रही है। कलेक्टर सिंह ने कोविड केयर सेंटर, कोविड हैल्प सेंटर, मेडिकल हॉस्पिटल आदि के संबंध में भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना संदिग्ध मरीजों में सिम्पटोमेटिक व असिम्पटोमेटिक के आधार पर मरीजो का विशेष ध्यान देकर उपचार सुनिश्चित किया जा रहा है।

कलेक्टर सिंह ने बताया कि कोरोना संदिग्ध मरीजो को संभावित मानते हुए उनके संपर्क में आये लोगो की एडवांस कान्ट्रेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है ताकि कोरोना की चैन को तोड़ा जा सके।

कलेक्टर सिंह ने बताया कि जिले में प्रवासी मजदूरो एवं जरूरतमंदो के भोजन हेतु ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रो में खाद्यान्न वितरण किया जा रहा है। शासन के निर्देशानुसार बेघर, बेसहारा परिवारो को खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। कोविड 19 अंतर्गत 25 श्रेणी के परिवारो एवं प्रधानमंत्री गरीब परिवार योजना से प्राप्त आवंटन का हितग्राहियों को राशन का वितरण कराया जा रहा है। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कोरोना संबंधी उपचार की आवश्यक उपकरण एवं सामग्री की जिले में पर्याप्त उपलब्धता है एवं मांग अनुरूप निरन्तर आवश्यक उपकरण एवं सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है।

जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों के मध्य गेहूं खरीदी के संबंध में हुई चर्चा

कलेक्टर धनंजय सिंह बैठक में जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया कि जिले में आज से 290 खरीदी केन्द्रो से समर्थन मूल्य पर खरीदी प्रारंभ कर दी गई है। किसानो की सुविधाओ की दृष्टिगत खरीदी केन्द्रो की संख्या में वृद्धि की गई है। खरीदी केन्द्रो पर कोराना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के मानको का पालन किया जा रहा है एवं खरीदी केन्द्रो में रेपिड रिस्पोंस टीम द्वारा कोरोना संबंधि स्क्रीनिंग की जा रही है। किसानो को एसएमएस के माध्यम से अपनी उपज विक्रय हेतु खरीदी केन्द्र पर आने हेतु सूचना दी गई है। शासन के निर्देशानुसार लघु एवं सीमांत किसानो को प्राथमिकता देते हुए, एनआईसी भोपाल द्वारा एसएमएस प्रेषित किए गए है। किसानो की सुविधा के दृष्टिगत खरीदी केन्द्रो में पेयजल, छाया एवं अन्य समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है। खरीदी केन्द्रों पर क्लस्टर मैनेजमेंट एवं लॉजिस्टिक मैनेजमेंट के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किये गये हैं। बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधियों द्वारा रबी उपार्जन के संबंध में सुझाव दिये गए एवं जिला प्रशासन द्वारा की गई तैयारियो के संबंध में संतोष व्यक्त किया। कलेक्टर  सिंह ने बैठक में बताया कि मंडी प्रांगण में खरीदी के अतिरिक्त अन्य माध्यमो से अधिसूचित कृषि उपज की खरीदी के संबंध में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा जारी निर्देशो की जानकारी से भी विस्तार से अवगत कराया।