Home Uncategorized फार्मास्यूटिकल्स, टेक्सटाईल और क्राफ्ट पेपर की इकाइयाँ लगाने के लिए रियायतें देने...

फार्मास्यूटिकल्स, टेक्सटाईल और क्राफ्ट पेपर की इकाइयाँ लगाने के लिए रियायतें देने का निर्णय

10
0

677 करोड़ का होगा निवेश, 4 हजार से अधिक को मिलेगा रोजगार, निवेश संवर्धन संबंधी मंत्रि-परिषद समिति ने दी मंजूरी

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज मंत्रालय में हुई निवेश संवर्धन संबंधी मंत्रि-परिषद समिति की बैठक में चार इकाइयों को निवेश प्रोत्साहन सहायता देने का निर्णय लिया गया। समिति ने जिन संस्थानों की इकाइयों को विचारोपरान्त विद्युत दर में रियायत और राज्य शासन की नीति में अन्य सुविधाएँ देने का निर्णय लिया गया उनमें मेसर्स अमृत पेपर्स लिमिटेड, मेसर्स एलेंबिक फार्मास्यूटिकल्स, मेसर्स स्वराज सूटिंग लिमिटेड और मेसर्स मराल ओवरसीज लिमिटेड शामिल हैं। इन इकाइयों द्वारा 677 करोड़ 47 लाख रूपए का निवेश कर 4 हजार 223 लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा।

ये इकाइयाँ लगेंगी राज्य में

प्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश वृद्धि के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। मेसर्स अमृत पेपर्स द्वारा धार जिले में 139 करोड़ 15 लाख रूपये के स्थाई पूँजी निवेश से क्राफ्ट पेपर इकाई प्रारंभ की जाएगी। इसमें लगभग 341 व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त होगा। इसी तरह मेसर्स एलेंबिक फार्मास्यूटिकल्स द्वारा 217 करोड़ 17 लाख रूपये के निवेश से नई दवा निर्माण इकाई लगाई जा रही है, जिससे 600 लोगों को रोजगार मिलना प्रस्तावित है। इसके अलावा मेसर्स स्वराज सूटिंग लिमिटेड द्वारा नीमच जिले में 120 करोड़ 25 लाख रूपये की लागत से यार्न निर्माण की नई इकाई लगाई जा रही है, जिससे 282 लोग रोजगार प्राप्त करेंगे। एक महत्वपूर्ण पूंजी निवेश खरगोन जिले में मेसर्स मराल ओवरसीज लिमिटेड द्वारा 200 करोड़ 90 लाख रूपये की लागत से किया जा रहा है,जिसमें प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 3 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। इस संस्थान के वर्तमान टेक्सटाईल यूनिट के विस्तार से यह संभव होगा।

बैठक में समिति के सदस्य मंत्रि गण, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस और संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।