Home National महिला हॉकी टीम की जीत, कमलप्रीत फाइनल में, अतनु और पंघाल हारे

महिला हॉकी टीम की जीत, कमलप्रीत फाइनल में, अतनु और पंघाल हारे

109
0

टोक्यो ओलंपिक में अब दूसरा हफ्ता शुरू हो चुका है। नौवें दिन डिस्कस थ्रो में देश की उम्मीदें जगी हैं। महिलाओं की स्पर्धा में कमलप्रीत कौर ने 64 मीटर के स्कोर के साथ फाइनल में प्रवेश कर लिया है। वह ग्रुप बी में दूसरे स्थान पर रहीं। इसके अलावा हॉकी में भी महिला टीम ने ग्रुप का आखिरी मुकाबला अपने नाम किया और दक्षिण अफ्रीका को 4-3 से हराया।

हालांकि अन्य खेलों में भारतीय खिलाड़ियों ने निराश किया। तीरंदाजी के एकल स्पर्धा के प्री क्वार्टरफाइनल मुकाबले में अतनु दास को हार का सामना करना पड़ा है। उन्हें जापानी खिलाड़ी ने 6-4 से हराया। जबकि मुक्केबाजी में देश की सबसे बड़ी उम्मीद अमित पंघाल भी हारकर बाहर हो गए हैं। दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी को कोलम्बियाई मुक्केबाज से शिकस्त झेलनी पड़ी।

अब बैडमिंटन में महिला एकल के सेमीफाइनल में पीवी सिंधु से उम्मीदें हैं। जबकि मुक्केबाजी के क्वार्टरफाइनल में पूजा रानी दावेदारी पेश करेंगी।

डिस्कश थ्रो के फाइनल में कमलप्रीत कौर

महिलाओं की डिस्कश थ्रो स्पर्धा में कमलप्रीत कौर ने फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है। ग्रुप बी से कौर ने तीसरे प्रयास में 64 मीटर का स्कोर हासिल किया और दूसरे स्थान पर रहीं। कमलप्रीत भारत की ओर से रिकॉर्ड स्कोर करने वाली खिलाड़ी बन गई हैं।

कमलप्रीत ने अलावा ग्रुप ए से सीमा पुनिया ने 60.57 मीटर का स्कोर किया और छठे स्थान पर हैं। दोनों ग्रुप में से शीर्ष 12 खिलाड़ी फाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगे।

 

 

तीरंदाजी में अतनु हारे

भारतीय तीरंदाज अतनु दास का टोक्यो ओलंपिक का सफर समाप्त हो गया। उन्हें प्री क्वार्टरफाइनल मुकाबले में जापान के फुरूकावा ताकाहरु के हाथों हार का सामना करना पड़ा है। फुरूकावा ने उन्हें 6-4 से हराया।

 

पंघाल ने किया निराश

मुक्केबाजी में भारत को बड़ा झटका लगा है। फ्लाईवेट स्पर्धा में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी अमित पंघाल अंतिम 16 राउंड में हार गए हैं। उन्हें कोलम्बियाई मुक्केबाज हर्ने मार्टिनेज ने 4-1 से हराया।

 

महिला हॉकी में भारत की जीत

भारतीय महिला हॉकी टीम अपने ग्रुप का आखिरी मैच जीतने में सफल रही। दक्षिण अफ्रीका के साथ हुए मुकाबले को टीम इंडिया ने 4-3 से अपने नाम किया और टोक्यो ओलंपिक की दूसरी जीत हासिल की। भारत की तरफ से वंदना कटारिया ने सर्वाधिक तीन गोल दागे। इस जीत के साथ भारतीय टीम ग्रुप ए में चौथे स्थान पर है और उसकी क्वार्टरफाइनल में पहुंचने की उम्मीद बरकरार है।