Home Uncategorized चिकित्सक दंपती ने 70 लोगों की सांसत में डाली जान, जूनियर डॉक्टरों...

चिकित्सक दंपती ने 70 लोगों की सांसत में डाली जान, जूनियर डॉक्टरों में हड़कंप

31
0

इंदौर।  मध्य प्रदेश के इंदौर में एक सरकारी अस्पताल में मेडिकल अफसर और उनके चिकित्सक पति ने प्रयागराज के लगभग 70 लोगों की जान सांसत में डाल दी है। महिला चिकित्सक के पति झांसी मेडिकल कॉलेज में चिकित्सक हैैं।

डॉक्टर अपनी पत्नी के साथ 19 मार्च को प्रयागराज के हंडिया इलाके में स्थित अपने गांव पहुंचे। दो दिन रहे और फिर डॉक्टर अपनी तीन बहनों के घर मिलने गए। इंदौर लौटने पर पता चला कि महिला चिकित्सक कोरोना पॉजीटिव हैैं। इतना ही नहीं उनके पति भी पॉजीटिव हैैं। दोनों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। इंदौर व झांसी जिला प्रशासन से मिली सूचना के बाद चिकित्सक दंपती के सम्पर्क में आने वाले स्थानीय 70 लोग चिह्नित किये गए। इसमे से 46 लोग क्वारंटाइन में भेजे गए।

इंदौर प्रतिनिधि के अनुसार एमवायएच इंदौर की एक जूनियर डॉक्टर भी कोरोना से संक्रमित हो गई है। मेडिकल कॉलेज की लैब में हुई जांच में इस बात की पुष्टि के बाद जूनियर डॉक्टर को इलाज के लिए भर्ती करवा दिया गया है।

जूनियर डॉक्टरों में हड़कंप

इस घटना से जूनियर डॉक्टरों में हड़कंप है और उन्होंने बुधवार को संबंधित विभाग की सीनियर प्रोफेसर से मिलकर इस संबंध में चर्चा भी की। जिस जूनियर डॉक्टर में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है वह एमजीएम मेडिकल कॉलेज से पीजी कर रही है। वह स्त्रीरोग विभाग में सेकेंड ईयर की छात्रा है। हाल ही मे वह झांसी गई थी। उसका पति भी झांसी में डॉक्टर है और वह भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

लौटने के बाद विभाग में काम भी कर रही थी

बताया जाता है कि वह 23-24 मार्च को ही वह वहां से लौटी और ज्वाइनिंग दी थी। इसके बाद से वह विभाग में काम कर रही थी। हाल ही में उसे बुखार आया तो उसकी जांच करवाई गई जिसमें कोरोना संक्रमण की बात पता चली।

विभाग में करीब डेढ़ दर्जन जूनियर डॉक्टर हैं। ये सभी एक साथ काम करते हैं। इनका आपस में मिलना-जुलना भी होता है। जूनियर डॉक्टर के संक्रमित पाए जाने के बाद सीनियर डॉक्टर भी सकते में हैं। उनका कहना है कि इस वक्त यह बताना बहुत मुश्किल है कि इस डॉक्टर के साथ और कौन-कौन संक्रमित हुआ है। कई जूनियर डॉक्टरों ने सीनियरों से मिलकर दूसरे शहरों से अपने स्वजन को बुलाने की बात भी कही है।