Home Jhabua कांग्रेस स्वतंत्रता संग्राम से लेकर आज तक देश हित के कार्य में...

कांग्रेस स्वतंत्रता संग्राम से लेकर आज तक देश हित के कार्य में लगी- कांतिलाल भूरिया

30
0

कांग्रेस ने मनाया 138 वा स्थापना दिवस

झाबुआ। राकेश पोद्दार। कांग्रेस पार्टी स्वतंत्रता संग्राम से लेकर आज तक देश हित के कार्य में लगी है आज कांग्रेश के 138 स्थापना दिवस के अवसर पर हम सब कांग्रेस जन यह शपथ लेते हैं कि हम देश हित में कांग्रेस के लिए काम करते रहेंगे और कांग्रेस की रीति नीतियों को आम जन को अवगत कराने में हम अपनी भूमिका का निर्वाह करेंगे कांग्रेस पार्टी ने ही देश को आजादी दिलाई और कांग्रेस के महान नेताओं ने ही संविधान लिखा और इस देश में धर्मनिरपेक्षता की नींव रखी उक्त उद्गार क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया ने स्थापना दिवस के अवसर पर कहीं।
मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष डॉ विक्रांत भूरिया ने कहा कि 28 दिसंबर वर्ष 1885 को मुंबई के गोकुलदास संस्कृत कॉलेज मैदान में देश के प्रत्येक प्रांत के विचारक समाज सुधारक राजनीतिक विचारधारा के लोग एक मंच पर एकत्रित हुए थे एकमत होकर सभी ने एक संगठन की नींव रखी जिसका नाम कांग्रेस रखा गया। यह वही पार्टी है जो आज अपने सिद्धांत पर अटल है जो देश में धर्मनिरपेक्षता का सिद्धांत लिए हुए हैं।
पूर्व विधायक जेवियर मेडा ने कहा कि देश आज बड़ी मुश्किल के दौर से गुजर रहा है भाजपा की सरकार ने भारतीय अर्थव्यवस्था को नेस्तनाबूद कर दिया है आज के इस दौर में में किसान युवा व्यापारी कर्मचारी सब परेशान है सरकार सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही चला सकती है जो सभी को साध कर चलने वाली पार्टी है स्थापना दिवस पर भारत जोड़ो यात्रा की सफलता के साथ हमें हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में जुट कर घर घर जाकर कांग्रेस की रीति नीतियों को आप जन के समक्ष रख कर कांग्रेस को मजबूत बनाने का आज हम प्रण लेते हैं।
यह रहे उपस्थित
स्थापना दिवस पर बैठक में जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्षा श्वेता गंगा मोहनिया जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष विजय भाबर कांग्रेस प्रवक्ता साबिर फिटवेल शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कान्हा गु डिया एनएसयूआई अध्यक्ष विनय भाभर जनपद सदस्य वि णा कुंवर रानी सा धूमा डामोर हेमेंद्र बबलू कटारा जितेंद्र शाह माना डामोर दरियाव सिंघाड़ कीलू भूरिया दीपू डोडियार देवा निनामा संजय परमार अरुण मकवाना खुना गुंडि या आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे संचालन साबिर फिटवेल ने किया आभार प्रकट विजय भाबर ने व्यक्त किया।