Home Jhabua जिले में कानून और शांति व्यवस्था बनाए रखने को बताया मुख्य विजन-एसपी...

जिले में कानून और शांति व्यवस्था बनाए रखने को बताया मुख्य विजन-एसपी अगम जैन

62
0

पत्रकारवार्ता में पत्रकारो से हुई चर्चा
कलेक्टोरेट पहुंचकर नवागत जिलाधीश श्रीमती रजनी सिंह एवं जिपं सीईओ सिद्धार्थ जैन से मिले

झाबुआ। राकेश पोद्दार। जिले को नया पुलिस कप्तान मिल गया है। नए पुलिस कप्तान के रूप में अगम जैन ने 28 सितंबर, बुधवार को दोपहर 11 बजे ड्यूटी समय पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर पदभार ग्रहण किया। ज्ञातव्य रहे कि अगम जैन इससे पूर्व में मप्र के महामहिम राज्यपाल श्री मंगूभाई छगनभाई पटेल के परिसहाय होकर राजभवन भोपाल में पदस्थ थे। वह 2016 बेंच के युवा एवं अनुभवी आईपीएस अधिकारी है। उनकी लेखनी एवं व्यंग्य में भी विशेष रूचि है।
मप्र शासन गृह मंत्रालय से 26 सितंबर, सोमवार रात जारी हुए आदेश में उनकी झाबुआ एसपी के रूप में पदस्थापना होने के बाद अगले दिन 27 सितंबर, मंगलवार को जिले की चार नगरीय निकायांे में मतदान होने के चलते देर शाम करीब 5 बजे उन्होंने भोपाल से निजी वाहन से झाबुआ के लिए प्रस्थान किया और इंदौर से होते हुए रात 10 बजे वह झाबुआ पहुंचे। जहां हाईवे मार्ग पर स्थित एसपी निवास पर सीधे पहुंचकर रात्रि विश्राम बाद अगले दिन 28 सितंबर, बुधवार को सुबह 11 बजे अपने पुलिस वाहन से एसपी कार्यालय पहुंचे। जहां उनकी आगवानी अतिरिक्त पुलिस कप्तान पीएस कुर्वे ने करते हुए उनका पुष्प गुच्छ भेंटकर अभिनंदन किया।
कलेक्टर एवं जिपं सीईओ से मिले
श्री जैन ने अपने कक्ष में सर्वप्रथम जिले के समस्त वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से परिचय प्राप्त करते हुए संक्षिप्त चर्चा की। बाद यहां से कलेक्टोरेट पहुंचकर कलेक्टर एवं डीएम श्रीमती रजनीसिंह तथा जिपं सीईओ सिद्धार्थ जैन से जिलाधीष कक्ष में उनसे मुलाकात की। इस दौरान नवागत एसपी श्री जैन ने उक्त दोनो वरिष्ठ प्रषासनिक अधिकारियों से मुख्य रूप से जिले की कानून व्यवस्था एवं आगामी 30 सितंबर को जिले की चारो नगरीय निकायों में होने वाली मतगणना को लेकर पुलिस सुरक्षा व्यवस्था पर भी बातचीत की।
जिले में होने वाले अपराधों संबंधी मीटींग ली
तत्पष्चात् यहां से एसपी श्री जैन पुनः पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे। जहां सभा कक्ष में सर्वप्रथम जिले के चारो अनुभाग के एसडीओपी, जिले के समस्त थाना प्रभारी एवं चौकी प्रभारियों की जिले में मुख्यतः होने वाले अपराधांे के संबंध में बैठक ली। इस दौरान बताया गया कि झाबुआ जिला आदिवासी बाहुल होकर यहां अधिकांशतः शराब के नशे में अपराध अधिक होते है। इसके साथ ही ग्रामीणांे में जमीन को लेकर विवाद होने, कुप्रथाआंे का बोलबाला, नशे का कारोबार अधिक होने, भांजगढ़ी प्रथा हावी होने, शराब के नषे में और तेज वाहन चलाने से दुर्घटनाओं के ग्राफ में बढ़ोत्तरी होना, नाबालिगों का अपहरण, बलात्कार, हत्या, हत्या के प्रयास जैसे मामले भी काफी आते है। इसके साथ ही नवागत पुलिस कप्तान ने समस्त एसडीओपी से थाना एवं चौकियों मंे मौजूदा पुलिस स्टॉफ तथा रक्षित निरीक्षक ठाकुर रणजीतसिंह से पुलिस लाईन में मौजूद पुलिस बल, वाहनों की संख्या, अष्वरोही की संख्या आदि पर भी चर्चा की।
जिले में शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखना मुख्य जिम्मेदारी
दोपहर 1 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय स्थित सभा कक्ष में नवागत एसपी ने जिले के पत्रकारों से चर्चा की। इस दौरान उन्हांेने बताया कि उनकी मुख्य प्राथमिकता जिले में शांति और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखना है। एसपी श्री जैन ने बताया कि वह फिलहाल जिले के सभी पुलिस थाना और चौकियों तथा डीआरपी लाईन का भी भ्रमण करेंगे। जिले में मुख्यतः होने वाले वाले अपराधों पर फोक्स कर उस पर किस तरह अंकुष लगाया जा सके, इस विजन पर काम करेंगे। उन्होंने बताया कि आदिवासी बाहुल जिले में जो दहेज, बाल विवाह और अन्य कुरूतियां है, उन्हें आपसी सामन्जस्य के माध्यम से दूर करने के प्रयास किए जाएंगे। एसपी अगम जैन ने जिले की जनता से अपील की है कि वह जिले में पुलिस एवं सुरक्षा व्यवस्था को बनाए रखने मंे पुलिस प्रषासन को पूर्णः सहयोग प्रदान करे। पत्रकारवार्ता में नवीन एसपी श्री जैन के साथ मुख्य रूप से एएसपी पीएस कुर्वे, आरआई ठा. रणजीत सिंह, एसडीओपी झाबुआ बबीता बामनिया एवं नवीन थाना प्रभारी बीएल मीणा भी विशेष रूप से उपस्थित थे।