Home Bhopal Burhanpur baba vilas maharaj claiming to cure diseases and problems by taking...

Burhanpur baba vilas maharaj claiming to cure diseases and problems by taking slips au568 | MP बना पर्ची बाबाओं का गढ़! धीरेंद्र शास्त्री के बाद विलास महाराज का लगा दरबार, हर बीमारी ठीक करने का दावा

28
0
MP बना पर्ची बाबाओं का गढ़! धीरेंद्र शास्त्री के बाद विलास महाराज का लगा दरबार, हर बीमारी ठीक करने का दावा

विलास महाराज ने TV9 भारतवर्ष को बताया की हम कोई भगवान नहीं है. भगवान तो नवनाथ महाराज हैं. जो सर्वशक्तिमान हैं. हम तो उनके नाम पर भभूति देते हैं. उससे लोगों की समस्या का समाधान हो जाता है.

बाबा विलास महाराज

Image Credit source: TV9 Network

बुरहानपुर: बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र शास्त्री पर्चा बनाकर लोगों की समस्याओं का हल करते हैं. मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में भी एक ऐसे ही बाबा सामने आए हैं, जो पर्चा बनाकर लोगों का भविष्य बता देते हैं. यह बाबा दरबार लगाकर लोगों की समस्या का समाधान कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि बाबा विलास महाराज पिछले कई सालों से दरबार लगा रहे हैं. वह कानिफनाथ जी के भक्त हैं.

उनके यहां यह परंपरा पिछले तीन पीढ़ी से चली आ रही है. ऐसा दावा है कि उनके यहां भक्त मध्य प्रदेश से ही नहीं आसपास के राज्यों से भी पहुंचकर अपनी समस्या का समाधान पा रहे हैं. पंडित धीरेंद्र शास्त्री के चर्चे तो आपने सुने ही होंगे. वह देश विदेश में भी विख्यात हैं, लेकिन अब ऐसे कई बाबाओं की बाढ़ आ गई है.

जो पहले से ही पर्चा बनाकर लोगों का भविष्य बता कर उनकी समस्या का समाधान करने का दावा करते हैं. ताजा मामला मध्य प्रदेश के बुरहानपुर के तहसील नेपानगर के एक छोटे से ग्राम पांच इमली का है.

पिछले 3 पीढ़ी से चली आ रही परंपरा

जहां पर बाबा विलास महाराज जब 7 साल के थे तब से ही नवनाथ की भक्ति कर रहे हैं. दावा किया जाता है कि उनसे कानिफनाथ महाराज प्रसन्न हैं. उनके यहां दरबार लगाकर लोगों के समस्या का समाधान करने की यह परंपरा पिछले 3 पीढ़ी से चली आ रही है. बाबा विलास महाराज पहले से ही पर्चा बनाकर उनकी समस्या बता देते हैं. भभूति देकर बड़ी से बड़ी बीमारी और समस्या का समाधान करने का दावा करते हैं.

ये भी पढ़ें: Ujjain: बाबा महाकाल के दर्शन करने पहुंचे VVS लक्ष्मण, गर्भग्रह में पहुंचकर की पूजा अर्चना

सप्ताह में दो दिन लगाते हैं दरबार

बाबा विलास महाराज कानिफनाथ महाराज के भक्त हैं. उनके शरीर में कानिफनाथ महाराज की सवारी भी आती है. समस्या अगर किसी भक्तों की बड़ी हो तो कानिफनाथ महाराज की सवारी आकर भक्तों के समस्या का समाधान कर देती है. बाबा विलास महाराज बुधवार और रविवार को अपना दरबार लगाते हैं.

समस्याओं के समाधान होने का दावा

विलास महाराज ने TV9 भारतवर्ष को बताया की हम कोई भगवान नहीं है. भगवान तो नवनाथ महाराज हैं. जो सर्वशक्तिमान हैं. हम तो उनके नाम पर भभूति देते हैं. उससे लोगों की समस्या का समाधान हो जाता है. हम तो कानिफनाथ महाराज के एक दास हैं. एक माध्यम मात्र है. सब कुछ कानिफनाथ महाराज की कृपा और आशीर्वाद से ही संभव हो पा रहा है. वहीं, पर्चा लिखने का ज्ञान भी कानिफनाथ महाराज ही देते हैं. उनसे हमारा संपर्क होता है और हम पर्चा लिखकर दे देते हैं.

महिला को हुई संतान प्राप्ति

खकनार की रहने वाली रेखा बाई बताती हैं कि शादी को 25 साल हो गए थे, लेकिन उन्हें कोई भी संतान की प्राप्ति नहीं हो रही थी. उन्होंने कई डॉक्टरों को बताया और लंबा इलाज भी किया. कोई फायदा नहीं हुई. फिर उन्हें बाबा विलास महाराज के बारे में पता चला. उन्होंने वहां दरबार में हाजिरी दी. उसके कुछ ही समय के बाद आश्चर्यजनक चमत्कार हुआ. उनके यहां संतान की प्राप्ति हो गई.

ये भी पढ़ें: ऊंची पहाड़ी चढ़कर महिलाएं भर रहीं MP सरकार की इस स्कीम का फॉर्म, परिवार को सता रही है ये टेंशन

वहीं, महाराष्ट्र के अमरावती जिले से पहुंची संगीता बाई बताती हैं कि मेरे भाई की तबीयत काफी दिनों से खराब थी. कई डॉक्टर को बताया लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा. मुझे कहीं से विलास बाबा के बारे में पता चला. जब हम यहां पहुंचे और विलास बाबा ने उन्हें ठीक कर दिया. अब मेरा भाई ठीक है. अपनी नौकरी पर ध्यान दे रहा है. यह सब मेरे लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है.

वहीं, बाबा के दरबार में पहुंचे भक्तों का कहना है कि मन में जो भी सवाल और इच्छा होती है. बाबा बिना पूछे ही सब पर्चे पर लिख कर बता देते हैं. यह हमारे लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है. यहां पूछने वाले भक्तों की सभी मनोकामना पूर्ण और लाइलाज बड़ी से बड़ी बीमारी भी ठीक हो रही है.