Home Bhopal Bulldozer Action: थाने से आरोपियों को छुड़ाने वाले अतिक्रमणकारियों के घरों पर...

Bulldozer Action: थाने से आरोपियों को छुड़ाने वाले अतिक्रमणकारियों के घरों पर चला बुलडोजर, 10 अरेस्ट | Bulldozer action tribals rescued accused police station

21
0
Bulldozer Action: थाने से आरोपियों को छुड़ाने वाले अतिक्रमणकारियों के घरों पर चला बुलडोजर, 10 अरेस्ट

बुरहानपुर: नेपा नगर थाने पर हमले के बाद हरकत में आई पुलिस ने रविवार को भारी लाव लश्कर के साथ अतिक्रमण कारियों के अवैध निर्माण पर बुल्डोजर चला दिया है. अब तक क्षेत्र में 16 आरोपियों के मकान ध्वस्त किए गए हैं. जबकि 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

बुरहानपुर: मध्य प्रदेश में नेपा नगर थाने पर हमला कर तीन आरोपियों को लॉकअप से छुड़ा ले जाने के मामले में पुलिस ने बुल्डोजर कार्रवाई शुरू कर दी है. एक हजार से अधिक संख्या में पुलिस फोर्स की मौजूदगी में प्रशासन ने शनिवार को अतिक्रमणकारियों के अवैध निर्माण ढहा दिए. वहीं इस दौरान हुई झड़प में गोली लगने से एक व्यक्ति के घायल होने की सूचना है. पुलिस ने मौके से 10 लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

एसपी राहुल कुमार के मुताबिक गोल लगने से घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जानकारी के मुताबिक नेपानगर थाने की पुलिस ने बागड़ी वन चौकी लूट मामले में मुख्य आरोपी हेमा समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया था. हेमा पर पुलिस की ओर से 32000 रुपये का इनाम घोषित है. आरोप है कि दो दिन पहले 60 से अधिक अतिक्रमणकारियों ने देर रात करीब साढ़े तीन बजे थाने पर हमला किया और इन तीनों आरोपियों को छुड़ा ले गए.

ये भी पढ़ें:पेड़ काटने से रोका तो वन विभाग की टीम पर तीर-गोफन से किया हमला, 14 घायल

इस वारदात में 3 पुलिसकर्मी घायल भी हुए थे. इसके बाद एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने रविवार को एक हजार से अधिक पुलिस के जवानों की टीम बनाई और जेसीबी लेकर आरोपियों के गांव सिवल को घेर लिया. इसके बाद पुलिस ने गांव में मुनाई कराई कि कोई भी पुलिस कार्रवाई में बाधा ना डाले. बताया जा रहा है कि अब तक पुलिस ने 18 अतिक्रमणकारियों के मकान जेसीबी लगाकर ध्वस्त कर दिए हैं. इस दौरान विरोध करने आए 10 लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

ये भी पढ़ें: MP: तीर-कमान छोड़ 40 गांव के 450 लोगों ने किया सरेंडर, हथियार न उठाने की खाई कसम

पुलिस के मुताबिक इसी दौरान अतिक्रमणकारियों के बीच आपसी विवाद हो गया. इस दौरान एक पक्ष की ओर से फायरिंग किए जाने से दूसरे पक्ष का युवक घायल हो गया. उसे इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्होंने बताया कि पीड़ित युवक का बयान लेने के लिए तहसीलदार को अस्पताल भेजा गया है. पुलिस ने बताया कि 18 महिलाओं के साथ उनके बच्चे भी हैं. ऐसे में छोटे बच्चों को तो महिलाओं के साथ रखा जाएगा, जबकि बड़े बच्चों को बाल सुधार गृह भेज दिया जाएगा.

थाने पर हमले का विरोध शुरू

नेपा नगर थाने पर हमला कर तीन आरोपियों को छुड़ा ले जाने की घटना का विरोध शुरू हो गया है. इसी क्रम में रविवार को शहर के व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान व्यापारियों ने एसपी को ज्ञापन भी सौंपा. आरोप लगाया कि जब थाना ही सुरक्षित नहीं है तो ये सरकार और प्रशासन आम आदमी की सुरक्षा क्या कर पाएगी. इलाके में बने तनाव की स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने तीसरी, चौथी, सातवीं और आठवीं कक्षा की परीक्षाएं टाल दी है.