Home Lucknow Punjab Congress के नए सीएम पर बोली बसपा सुप्रीमो मायावती- कांग्रेस को...

Punjab Congress के नए सीएम पर बोली बसपा सुप्रीमो मायावती- कांग्रेस को मजबूरी में ही आती है दलितों की याद

47
0
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ,File Pic

बसपा प्रमुख मायावती (BSP Mayawati) ने पंजाब के पहले दलित सीएम चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) को बधाई देते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा है. मायावती ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी को सीएम बनाना कांग्रेस (punjab congress) का सिर्फ चुनावी हथकंडा है. कांग्रेस ने दिखावे के लिए पंजाब में दलित को सीएम बनाया है. मायावती ने कहा कि कांग्रेस को चुनाव के समय ही दलित की क्यों याद आए. पंजाब के दलित कांग्रेस के बहकावे में आने वाले नहीं हैं.

मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने चुनावी लाभ लेने के लिए यह निर्णय लिया है. जबकि सच तो यह है कि कांग्रेस को दलितों पर भरोसा नहीं है. उन्हें मुसीबत में ही दलितों की याद आती है. उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों को कांग्रेस से सावधान रहना चाहिए.

नेहरू एंड कम्पनी के पास बाबा साहेब से ज़्यादा क़ाबिल व्यक्ति नहीं था

मायावती ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि देश की आज़ादी के बाद कांग्रेस और नेहरू एंड कम्पनी के पास बाबा साहेब से ज़्यादा क़ाबिल व्यक्ति होता तो वो संविधान इस तरह बनने ना देते. उन्होंने कहा कि कांग्रेस या जवाहर लाल नेहरू के पास डॉक्टर आंबेडकर से कोई काबिल होता तो ये उन्हें संविधान बनाने में शामिल नहीं करते और दलितों को कानूनी अधिकार नहीं मिलते. मुस्लिम सुरक्षित नहीं होते.

मायावती ने बीजेपी पर भी बोला हमला

मायावती ने बीजेपी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि यूपी विधानसभा चुनाव से कुछ समय पहले ओबीसी समाज का नया प्रेम बीजेपी दिखा रही है. ओबीसी के प्रति ईमानदारी होती तो जातिगत जनगणना को स्वीकार कर लेते. जातिगत जनगणना से घबरा रहे हैं. दलित और अति पिछड़े किसी के बहकावे में नही आएंगे, क्योकि इन्हें जो मिला वह बाबा साहब आंबेडकर की वजह से मिला है’.

चन्नी बने पंजाब के नए मुख्यमंत्री

बता दें कि चरणजीत सिंह चन्नी के पंजाब के नए मुख्यमंत्री हैं. राजभवन में सोमवार को राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने चन्नी को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई है. चन्नी के साथ ही सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी ने भी मंत्रीपद की शपथ ली है. कयास लगाए जा रहे हैं कि इन्हें उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी इस समारोह में शामिल होने के लिए राजभवन पहुंचे लेकिन तब तक चन्नी शपथ ले चुके थे.