Home Crime सतना जिले के नयागांव थाना इलाके में डीजल की कालाबाजारी, पकड़ने गए...

सतना जिले के नयागांव थाना इलाके में डीजल की कालाबाजारी, पकड़ने गए पुलिस कॉन्स्टेबल की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या, उपनिरीक्षक निलंबित

47
0
प्रतिकात्मक फोटो

डीजल की कालाबाजारी कर रहे माफिया ने पुलिस कॉन्स्टेबल की जान ले ली। कर्तव्य पालन करते हुए वह अकेले ही गांव में चले गए। इस बीच दो आरोपियों ने उनपर ट्रैक्टर चढ़ा दी।

सतनाः सतना जिले के चित्रकूट स्थित नयागांव थाना इलाके के पथरा गांव में डीजल की कालाबाजारी पकड़ने गए एक पुलिस कॉन्स्टेबल की दो आरोपियों ने कथित तौर पर ट्रैक्टर से कुचलकर रविवार शाम को हत्या कर दी।

इस मामले में नयागांव पुलिस थाना प्रभारी उपनिरीक्षक आशीष धुर्वे को सोमवार को निलंबित कर दिया गया। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कॉन्स्टेबल प्रबल प्रताप सिंह को सूचना मिली थी कि कुछ लोग डीजल की कालाबाजारी कर रहे हैं। सूचना के आधार पर वह मौके पर पहुंचे और जब उन्होंने ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश की तो आरोपियों ने उन पर ट्रैक्टर चढ़ा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्ट्या तो यह पता चला था कि सड़क हादसे में उनकी जान गई है, लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुंची तब ग्रामीणों ने घटना की पूरी कहानी बताई। पुलिस ने बताया कि सिंह मूलतः उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले के बन्ना मऊ गांव के रहने वाले थे। वर्ष 2014 में रतलाम में पुलिस विभाग में भर्ती हुए थे। वह चित्रकूट के नयागांव थाने में पिछले तीन साल से तैनात थे।

इसी बीच, सतना जिले के पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बताया कि इस मामले में दो आरोपियों पौधा उर्फ प्रमोद पटेल एवं धनपत पटेल उर्फ लाला के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। ये दोनों आरोपी उत्तर प्रदेश के हैं। उन्होंने कहा कि दोनों आरोपी फरार हैं और उनकी तलाश जारी है।

इकबाल ने बताया कि आरोपियों को पकड़ने के लिए चार थानों की पुलिस टीम को लगाया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में लापरवाही बरतने एवं पुलिस कॉन्स्टेबल की मौत सड़क हादसा बताकर अधिकारियों को गुमराह करने के लिए नयागांव पुलिस थाना प्रभारी उपनिरीक्षक आशीष धुर्वे को सोमवार को निलंबित कर दिया गया। इकबाल ने बताया, ‘‘इस पूरे मामले में मैंने जांच के आदेश दिए हैं। जांच का जिम्मा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (एसडीओपी) चित्रकूट और उप पुलिस अधीक्षक (डीएसपी) मुख्यालय हितिका वासल को सौंपा गया है।