Home Uncategorized बिहार के बांका जिले में ताला लगे मदरसा में विस्फोट, गर्मायी सियासत,...

बिहार के बांका जिले में ताला लगे मदरसा में विस्फोट, गर्मायी सियासत, भाजपा-जदयू ने एक-दूसरे पर किए हमले, जानें मामला

19
0

पटना,(एजेंसी):  बिहार के बांका में एक मस्जिद के पास स्थित मदरसे में बम विस्फोट होने से पूरा मदरसा ध्वस्त हो गया. इस घटना में मदरसे के मौलवी की मौत हो गई और करीब चार लोगों के भी जख्मी होने की सूचना है. हालांकि जख्मी का कहीं अता-पता नहीं चल रहा है. मौके पर जांच के लिए पहुंची फॉरेंसिक टीम ने पाया कि बम विस्फोट से ही मदरसा उड़ा है.

 

 

कुछ लोगों का कहना है कि मदरसे में बम रखा हुआ था, वही विस्फोट कर गया. स्थानीय लोगों ने बताया कि बम विस्फोट की घटना के बाद आसपास के सभी पुरुष घर छोड़कर फरार हो गए हैं, जबकि घरों में मौजूद महिलाएं कुछ भी बताने से इनकार कर रही हैं. घायलों का भी पता नहीं चल सका है.

 

खबर मिलने के बाद स्थानीय पुलिस और फॉरेंसिक टीम घटनास्थल पर पहुंच गई. इस मामले में एसपी एके गुप्ता ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है, साथ ही घायलों का भी नाम पता किया जा रहा है, अभी लॉकडाउन चल रहा है जिसकी वजह से मदरसे में बच्चें नहीं थे, अगर बच्चे रहते तो और भी बड़ी घटना होती.

 

इस बीच मंगलवार शाम होते-होते मदरसे के इमाम अब्दुल सत्तार मोबिन की मौत की सूचना भी सामने आ गई. मदरसे के पास ही उनके शव को छोड़कर कुछ अज्ञात लोग फरार हो गए. बाद में पुलिस ने उनके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया गया. इमाम झारखंड के देवघर सारठ का रहने वाला है.

 

सूत्रों का कहना है कि मदरसे के अंदर के कार्यालय में एक ट्रंक में बम था, जो बिस्फोट हुआ है. बम की क्षमता का अंदादा इससे लगाया जा सकता है कि मदरसा पूरी तरह जमींदोज हो गया और आसपास के कई घरों में भी दरारें आ गई हैं. बताया जा रहा है कि पिछले कई सालों से पास के गांव मजलिसपुर से इस गांव का विवाद चलता रहा है.

नवटोलिया और मजलिसपुर गांव में हर महीने विवाद होता है, जिसमें दोनो तरफ के कई लोगों की मौत भी हो चुकी है. अभी 20 दिन पहले भी विवाद हुआ था. विवाद और मदरसे में रखे गए बम को एक साथ जोड़कर पुलिस जांच कर रही है.

मदरसे में हुए बम विस्फोट की घटना के बाद भाजपा आक्रामक हो गई है.

भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर ने बिहार में सभी मदरसों और मस्जिदों को बंद करने की मांग कर दी है. भाजपा विधायक की इस मांग के बाद अब इस मामले पर सियासत तेज हो गई है.

 

 

जदयू ने भी भाजपा विधायक पर अनाप-शनाप बयानबाजी करने का आरोप लगाया है.

 

सिर्फ आतंकवाद की शिक्षाः भाजपा

दरअसल, भाजपा विधायक के हरि भूषण ठाकुर ने आरोप लगाया है कि बिहार में मदरसे और मस्जिदों के अंदर आतंकवाद की शिक्षा दी जा रही है. उन्होंने मदरसों और मस्जिदों पर सवाल उठाते हुए कहा है कि इन जगहों पर पढ़ाई करनेवाला कभी इंजिनियर या डॉक्टर नहीं बनता है, क्योंकि इन जगहों पर सिर्फ आतंकवाद की शिक्षा दी जाती है.

उन्होंने बांका के मदरसा विस्फोट को इसका उदाहरण बताते हुए कहा कि पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने और सरकार से इस पर तुरंत कार्रवाई करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि सभी मदरसों की जांच हो और उन्हें बंद किया जाए. उन्होंने यह भी कहा कि मदरसों में दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों को प्रताड़ित करने की शिक्षा दी जाती है.

 

बिहार की सियासत में हलचल

मदरसों में यह पाठ पढ़ाया जाता है कि कमजोर वर्ग को इतना परेशान करो कि वह इस्लाम धर्म कबूल करने के लिए मजबूर हो जाए. भाजपा विधायक ने कहा कि सूबे के कई जिलों से पिछडे़ वर्ग को प्रताड़ित करने के भी मामले सामने आ रहे हैं. यहां बता दें कि इससे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने भी दलितों के खिलाफ अल्पसंख्यकों की तरफ से लगातार उत्पीड़न के मामले सामने आने की बात को कहा था. जिसके बाद बिहार की सियासत में हलचल पैदा हो गई है. वहीं, इस मामले के बाद अब हम ने को-आर्डिनेशन कमिटी बनाने की बड़ी मांग कर दी है.

उल्लेखनीय है कि बांका में एक मदरसे में कल विस्फोट की घटना हुई थी, जिसमें एक मौलवी की मौत हो गई. साथ ही मदरसा की पूरी इमारत ध्वस्त हो गया. बताया गया कि विस्फोट मदरसे के एक बंद कमरे में हुआ था. विस्फोट की घटना सामने आने के बाद अब इसकी जांच की मांग तेज हो गई है. उधर, भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर के बयान के बाद अब जदयू पलटवार के मूड में आ गई है.

भाजपा के लोगों को चुनाव के समय मस्जिद और मदरसा नहीं दिखता

जदयू के विधान पार्षद गुलाम रसूल बलियावी ने हरि भूषण ठाकुर के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा है कि जिन्हें मदरसों का इतिहास नहीं पता वह अनाप-शनाप बयान बाजी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा के लोगों को चुनाव के समय मस्जिद और मदरसा नहीं दिखता, लेकिन जब चुनाव जीत जाते हैं तो इसी तरह की बेतुका बयानबाजी करते हैं.

बलियावी ने कहा कि जो लोग आजादी की लड़ाई में शामिल नहीं हुए, वह भारत के इतिहास को क्या समझेंगे? ऐसे लोगों को कांके भेज दिया जाएगा. जदयू विधान पार्षद ने कहा कि प्रशासन मदरसा विस्फोट मामले की छानबीन कर रहा है. जिस तरह की मानसिकता भाजपा के विधायक दिखा रहे हैं, उसी तरह की मानसिकता वाले लोगों का हाथ सब विस्फोट में है.

बलियावी ने कहा कि हरि भूषण ठाकुर मीडिया के एक डार्लिंग हैं और सुर्खियों में बने रहने के लिए इस तरह का बयान देते हैं. उन्होंने कहा कि हरि भूषण ठाकुर को पहले अपनी पार्टी से फरिया लेना चाहिए. मंत्री पद नहीं मिलने के कारण वह इस तरह का बयान दे रहे हैं. भाजपा के अंदर अंदरूनी खींचतान से पहले हरी भूषण ठाकुर निपट लें, उसके बाद इस तरह की बात करें.