Home National Ballistic missile Agni 3 Successful test from APJ Abdul Kalam Island Odisha...

Ballistic missile Agni 3 Successful test from APJ Abdul Kalam Island Odisha | बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि -3 का सफल परीक्षण, आसानी से भेदा जा सकेगा इतने दूर का लक्ष्य

2
0

अग्नि-3 अग्नि मिसाइल सीरीज में तीसरा प्रवेशी मिसाइल है और पहली बार 9 जुलाई, 2006 को इसका परीक्षण किया गया था. लेकिन इसमें तकनीकी खराबी आ गई और यह लक्ष्य को भेदे बिना ओडिशा तट से दूर समुद्र में गिर गया.

बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि -3 का सफल परीक्षण (फाइल फोटो)

Image Credit source: PTI

भारत ने बुधवार को बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि -3 का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है. ये परीक्षण ओडिशा तट के पास एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से किया गया है. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) सूत्रों ने यह जानकारी दी. अग्नि -3 इंटरमीडिएट रेंज की बैलिस्टिक मिसाइल है.

एक आधिकारिक बयान के अनुसार यह परीक्षण सामरिक बल कमान (एसएफसी) के तत्वावधान में किए गए नियमित प्रशिक्षण लॉन्च का हिस्सा था. बयान के अनुसार लॉन्च पूर्व निर्धारित सीमा के लिए किया गया था. मिसाइल का परीक्षण पूरी तरह से सफल रहा और यह विभिन्न मानकों पर खरी उतरी.

पहली बार 9 जुलाई को हुआ था परीक्षण

अग्नि-3 अग्नि मिसाइल सीरीज में तीसरा प्रवेशी मिसाइल है और पहली बार 9 जुलाई, 2006 को इसका परीक्षण किया गया था. लेकिन इसमें तकनीकी खराबी आ गई और यह लक्ष्य को भेदे बिना ओडिशा तट से दूर समुद्र में गिर गया. यह मिसाइल परमाणु आयुध ले जाने और 3,500 किलोमीटर दूर लक्ष्य को भेदने में सक्षम है.

एडी-1 इंटरसेप्टर मिसाइल का भी किया था सफल परीक्षण

अग्नि-3 मिसाइल का 2007 में दूसरी बार और फिर 2008 में लगातार तीसरे लॉन्च में सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया था. इससे पहले डीआरडीओ ने नवंबर में एडी-1 इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण किया था. इसके साथ ही भारत अब लॉन्ग रेंज बैलिस्टिक मिसाइल को इंटरसेप्ट करने में पूरी तरह सक्षम है. डीआरडीओ के चीफ समीर कामत ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा था कि यह एक बड़ी सफलता है कि भारतीय सेना अब लॉन्ग रेंज बैलिस्टिक मिसाइल को इंटरसेप्ट करने में पूरी तरह सक्षम है. उन्होंने बताया कि एडी-1 5000 किलोमीटर क्लास के मिसाइलों को इंटरसेप्ट कर सकता है.

डीआरडीओ चीफ कामत ने बताया था कि अगर दुश्मन हमें लॉन्ग रेंज से टारगेट करता है तो हम उसे इंटरसेप्ट करने में सक्षम हैं. यह बैलिस्टिक मिसाइल के खिलाफ हमारी बड़ी सफलता है.

अग्नि प्राइम मिसाइल का भी हुआ था सफल परीक्षण

वहीं अक्टूबर में अग्नि प्राइम मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया था. मिसाइल को ओडिशा के बालासोर स्थित डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम आइलैंड से लॉन्च किया गया. टेस्ट के दौरान मिसाइल अधिकतम रेंज तक पहुंची. मिसाइल पूरी सटीकता के साथ निशाना साधते हुए सभी परिचालन और तकनीकी मानकों को पूरा किया. अग्नि सीरीज की दूसरी मिसाइलों की तुलना में ये सबसे छोटी और हल्की मिसाइल है.