Home Bhopal संजय सिंह रिमांड पर, दिल्ली से बंगाल तक एक्शन में ED IT,...

संजय सिंह रिमांड पर, दिल्ली से बंगाल तक एक्शन में ED IT, इन नेताओं पर कसा शिकंजा | Sanjay Singh Delhi Liquor Scam Case ED-IT Raids In West Bengal Tamil Nadu

15
0
संजय की रिमांड, दिल्ली से बंगाल तक एक्शन में ED-IT, इन पर कसा शिकंजा

ईडी-आईटी रेड्सImage Credit source: TV9 Graphics

देशभर में ईडी एक्शन की वेव आ गई है. गुरुवार का दिन प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग के लिए बड़ा दिन रहा. इन केंद्रीय एजेंसियों ने दो बड़े विपक्षी दलों के दर्जनों ठिकानों पर रेड की. टीएमसी के मंत्री और डीएमके सांसद के घरों और उनके अन्य लोकेशंस की तलाशी ली गई. पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में केंद्रीय एजेंसी एक्शन मोड में दिखी. शराब घोटाला केस में आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह को पहले ही ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है. ईडी-आईटी के पास दर्जनों केस हैं जिसकी जांच या तो शुरू की गई है या पहले से चल रही है.

दिल्ली शराब घोटाला मामले में आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह पांच दिनों की रिमांड पर भेजे गए हैं. इस दरमियान उनसे लेनदेन और अन्य संभावित रूप से शामिल लोगों के बारे में पूछताछ होगी. प्रवर्तन निदेशालय ने आप नेता के घर पर दो करोड़ रुपए के लेनदेन का आरोप लगाया है. वह 10 अक्टूबर तक केंद्रीय एजेंसी की रिमांड पर हैं. रिमांड कॉपी में उन्हें घोटाले के मुख्य साजिशकर्ता के रूप में शामिल किया गया है. आरोप है कि शराब नीति की रूपरेखा उनकी देखरेख में तैयार की गई थी.

ये भी पढ़ें: 21 पार्टियों के 120 से ज्यादा नेता 9 साल में ED ने इन पर कसा शिकंजा

संजय सिंह ने आरोपों को बताया बेबुनियाद

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और एक मुखर नेता के रूप में पहचान बना चुके संजय सिंह ने प्रवर्तन निदेशालय के आरोपों को खारिज किया है. उन्होंने आरोपों को बेबुनियाद बताया. राऊड एवेन्यू कोर्ट ने ईडी को उनकी रिमांड दी है. पेशी के दौरान ले जाते वक्त पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में कहा कि “मोदी जी चुनाव हार रहे हैं. इसलिए यह सब सभी कुछ हो रहा है.”

संजय सिंह ने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि वह “डरते नहीं हैं, लड़ेंगे.” ईडी ने कोर्ट में कहा कि संजय सिंह और दिनेश अरोड़ा 2017 से संपर्क में थे और दोनों के सीडीआर हैं. ईडी का आरोप है कि दिनेश अरोड़ा ने अगस्त 2021 से अक्टूबर 2021 के बीच दो करोड़ रुपए की राशी अलग-अलग जगहों से इकट्ठा किए. इस केस में कुछ आरोपी सरकार वकील बन गए हैं, जिसमें दिनेश अरोड़ा भी एक हैं.

आम आदमी पार्टी के दो बड़े नेता जेल में

एजेंसी के दावे के मुताबिक, बाद में अरोड़ा के किसी कर्मचारी ने इकट्ठा की गई दो करोड़ रुपए की राशी संजय सिंह के घर पहुंचाई, जिनमें से एक करोड़ रुपये संजय सिंह के करीबी स्टाफ सर्वेश मिश्रा को दिया गया था. वहीं संजय सिह ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है. इसी शराब घोटाला केस में आम आदमी पार्टी के और भी दो बड़े नेता जेल में हैं.

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन मई महीने में गिरफ्तार किए गए थे और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की 8 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तारी हुई थी. संजय सिंह की गिरफ्तारी के विरोध में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया. दिल्ली-मुंबई-चंडीगढ़ समेत देशभर में सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के लिए सड़क पर उतरे .इस दौरान कई जगहों पर कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प भी हुई.

ईडी-आईटी की कई राज्यों में रेड

प्रवर्तन निदेशालय ईडी और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने बीते दिन गुरुवार को कई राज्यों में छापेमारी की. उत्तर प्रदेश से लेकर पश्चिम बंगाल, तेलंगाना और दक्षिण में तमिलनाडु में दर्जनों टीमों के साथ रेड की गई. पश्चिम बंगाल में म्यूनिसिपलिटी में अवैध रूप से नौकरी देने का मामला है, जहां टीएमसी के एक मंत्री रथिन घोष के घर और ठिकानों समेत 12-13 स्थानों पर ईडी रेड हुई.

वहीं तमिलनाडु में डीएमके सांसद के घर और उनके करीबीयों के घर छानबीन के लिए इनकम टैक्स ने 40 लोकेशंस पर रेड की. वहीं हैदराबाद में व्यापारियों, उद्योगपतियों समेत ठेकेदारों के घरों और लोकेशन की तलाशी ली गई. मयूर ग्रुप वनस्पति तेल, फूड आइटम्स और पैकेजिंग का काम करने वाली कंपनी के उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में ठिकानों की छानबीन की गई.