Home National मर्द जैसी बात कीजिए, दिल्ली के 60% लोग नर्क में रह रहे…...

मर्द जैसी बात कीजिए, दिल्ली के 60% लोग नर्क में रह रहे… केजरीवाल पर CM सरमा का पलटवार | Himanta Sarma’s reply to Kejriwal’s tea invite, say possible to reply my letter answer

10
0

Himanta Biswa Sarma ON Kejirwal: असम के सीएम हिमंत बिस्व सरमा ने केजरीवाल पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि मैं उनको एक लेटर लिखूंगा और अगर उनमें हिम्मत है तो इसका जवाब जरुर दें. सरमा के दावे के अनुसार असम के गावों की स्थिति दिल्ली के गांवों से बेहतर है.

असम सीएम ने दिल्ली सीएम पर बोला हमला.

Image Credit source: PTI

गुवहाटी: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आरोपों पर असम के सीएम हिमंत बिस्व सरमा ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा सीएम केजरीवाल ने मुझे दिल्ली आने का आमंत्रण दिया है. बेशक वहां जाने को तैयार हूं. लेकिन उन जगह पर नहीं जहां केजरीवाल मुझे ले जाएगे. उन जगह पर जहां मैं केजरीवाल को ले जाऊंगा. उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने दिल्ली में रोजगार को लेकर बड़े- बड़े दावे किए है. लेकिन जमीनी हकीकत सच में कुछ और है.

केजरीवाल ने दावा किया है कि दिल्ली सरकार ने 12 लाख लोगों को नौकरी दीं है,जबकि सात साल में दिल्ली सरकार इतनी नौकरी दें ही नहीं सकती. क्योकि दिल्ली में सिर्फ 1.5 लाख नौकरियों के लिए वैकेंसी है. असम सीएम ने कहा कि हमारी स्थिति दिल्ली से बेहतर है, मैं उनको एक लेटर लिखूंगा और अगर उनमें हिम्मत है तो इसका जवाब जरुर दें. सरमा के दावे के अनुसार असम के गावों की स्थिति दिल्ली के गांवों से बेहतर है.

ये भी पढ़ें- पश्चिमी देशों को दूसरों पर बोलने की बुरी आदत राहुल मसले US-जर्मनी को जयशंकर का सीधा जवाब

दिल्ली में 60% लोग परेशान हैं

उन्होंने कहा कि दिल्ली के 60% लोग परेशान हैं. वहां के लोग नर्क जैसी जिदंगी जीने को मजबूर हैं. असम तो स्वर्ग है. दिल्ली के एक-एक रुम में 20-20 लोग रहते हैं. वहीं 70% लोग झुग्गियों में रहते हैं और वहां पानी की भी बड़ी समस्या है. हमारा असम स्वर्ग है. यहां जो आएगा वो जाएंगे ही नहीं.

सरमा ने कहा कि मैंने केजरीवाल से कहा है कि आपने दिल्ली विधानसभा के अंदर मेरे खिलाफ जो बोला है उसे बाहर कहिए. फिर मैं आपको अदालत में देखूंगा. लेकिन वह कायर हैं.
सरमा ने कहा कायर मत बनिए. मर्द है तो मर्द जैसी बात कीजिए. औरत हैं तो औरत की तरह बात कीजिए. नेता है तो नेता की तरह बोलिए,केजरीवाल ने साबित कर दिया है कि उनकी वीरता केवल विधानसभा तक ही सीमित है.

सीएम केजरीवाल ने सरमा पर बोला था हमला

बता दें, इस पहले दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने सीएम सरमा पर हमला बोला था. उन्होंने कहा था कि असम के लोगों ने सभी पार्टियों को मौका दिया है. फिर भी कुछ चेंज नहीं हुआ. असम की वर्तमान सरकार 2014 में आई थी जबकि आम आदमी पार्टी की सरकार 2015 में आई थी, दिल्ली इतनी विकसित हो गई, लेकिन असम में कोई विकास नहीं हुआ.

केजरीवाल ने कहा कि सरमा मुझे जेल में डालने की धमकी देते है. वो सीएम बेशक बन गए हैं, लेकिन उन्होंने असम की संस्कृति नहीं सीखी. वहां के लोग अपने मेहमान को चाय पिलाते है. जेल नहीं भेजते.

हम खास आदमी बने रहेंगे

सरमा ने कहा कि हम सत्कार करना जानते हैं. लेकिन जब औरंगजेब असम आया तो लाचित ने उसे रोक दिया. अब जब आप झूठ बोलने असम आए हो तो हम तुम्हें मेहमान क्यों मानें? फिर भी मैंने आपकों सुरक्षा दी, हिमंत ने कहा, कोविड के दौरान कई बार ट्वीट किया, लेकिन आपने जवाब नहीं दिया. कृपया हमें अकेला छोड़ दें. हमें आम आदमी होने की जरूरत नहीं है, हम खास आदमी बने रहेंगे.

ये भी पढ़ें- तिरंगे का अपमान बर्दाश्त नहीं करेगा भारत, हम झंडे को और बड़ा कर देंगे खालिस्तानियों को जयशंकर की दो टूक