Home Gadgets airtel: Airtel यूजर्स सावधान! लग सकती है लाखों की चपत, कंपनी ने...

airtel: Airtel यूजर्स सावधान! लग सकती है लाखों की चपत, कंपनी ने बताया बचने का तरीका – airtel warns user about kyc and otp frauds

15
0


हाइलाइट्स

  • Airtel ने अपने यूजर्स को किया सावधान
  • फ्रॉड से बचाने का है मकसद
  • लग सकती है लाखों की चपत

नई दिल्ली। देश की जानी-मानी टेलीकॉम कंपनी Airtel ने अपने ग्राहकों को KYC और OTP फ्रॉड से सावधान किया है। इस फ्रॉड में जालसाज एक्जीक्यूटिव के तौर पर बात करते हैं और यूजर्स के बैंक अकाउंट में एक्सेस पाने के लिए कोशिश करते हैं। एयरटेल ने बताया कि हाल ही में एक साइबर क्रिमिनल ने Airtel के एग्जीक्यूटिव के तौर पर बात की और ग्राहक को केवाईसी फॉर्म अपडेट करने के बहाने से फोन किया। जब ग्राहक ने गलती से अपनी बैंक डिटेल्स दे दी तो फ्रॉड ने उनके बैंक अकाउंट से पैसा ट्रांसफर कर लिया। बेशक एयरटेल समेत अन्य टेलीकॉम कंपनियों ने यूजर्स को इस प्रकार के फ्रॉड के बारे में सूचित किया हो, लेकिन फिर भी ग्राहक इनकी चपेट में आ जाते हैं।

जानें 100 रुपये में किसके रीचार्ज प्लान्स हैं बेस्ट, Airtel, Jio, BSNL और Vodafone Idea के बीच तगड़ा है मुकाबला

Airtel के CEO गोपाल विट्टल ने ग्राहकों से एक आउटरीच ईमेल में कहा कि ‘ग्राहकों को बैंक या फाइनेंस इंस्टीट्यूशन से होने का दावा करने वाली कॉल्स या मैसेज आ सकते हैं। उसके बाद बैंक अकाउंट को अनब्लॉक या रिन्यू करने के लिए बैंक अकाउंट की डिटेल या ओटीपी की मांग की जा सकती है। उसके बाद डिटेल्स का इस्तेमाल करके ग्राहकों के बैंक अकाउंट से पैसे निकाले जा सकते हैं। ऐसे में मैं आपसे आग्रह करता हूं कि सावधान रहें और फोन कॉल्स या SMS पर कोई भी निजी जानकारी या फाइनेंशियल इंफॉर्मेशन जैसे कि कस्टमर आईडी, MPIN या OTP आदि शेयर न करें।

विट्टल ने ग्राहकों को एयरटेल एग्जीक्यूटिव के तौर पर बात करने वाले साइबर फ्रॉड से सतर्क रहने के लिए कहा है। इसके साथ ही उन्होंने फर्जी UPI हैंडल या वेबसाइट्स से फेक OTP जैसे फ्रॉड के बारे में भी बताया है। उन्होंने बताया कि ‘अगर कोई कस्टमर इनमें से किसी को डाउनलोड करना है तो उसे अपने बैंक डिटेल्स के साथ MPIN दर्ज करने के लिए कहा जाएगा। उसके बाद फ्रॉड को आपके बैंक का एक्सेस मिल जाएगा। इसलिए आपको इस प्रकार की फेक वेबसाइट्स और ऐप्स से बच कर रहना और ईमेल के जरिए या ईमेल में मौजूद किसी फेक लिंक पर क्लिक करके अपनी निजी जानकारी साझा करने से भी बचना है। चाहें आपसे यह रिक्वेस्ट इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, वीजा या मास्टर कार्ड आदि की ओर से की गई हो।

सुपर ब्राइट डिस्प्ले और दमदार फिटनेस फीचर्स के साथ लॉन्च हुई Redmi Watch 2, जानें कितनी है कीमत

टेलिकॉम यूर्स को अक्सर KYC वेरिफिकेशन के लिए मैसेज आते रहते हैं। इन मैसेज में कहा जाता है कि अगर ऐसा नहीं किया तो 24 घंटों में उनका नंबर बंद हो जाएगा। इन मैसेज ऐसा भी कहा जाता है कि अगर कस्टमर सर्विस से संबंधित कोई दिक्कत है तो उस नंबर पर कॉल कीजिए। यूजर्स आसानी से इस प्रकार के फ्रॉड मैसेज को देखकर फंस जाते हैं, लेकिन आपको इस प्रकार के मैसेज की पहचान करनी है। जैसे उनमें आपको वर्तनी की गलतियां देखनी है और ग्रामर की कमी भी आपको यह बताएगी कि ये मैसेज फेक हैं, क्योंकि इनमें कंपनियों के नाम ठीक से नहीं लिखे गए होते हैं। Airtel ने पहले भी अपने यूजर्स को सावधान करते हुए एक फ्रॉड अलर्ट मैसेज भेजा था। इस मैसेज में कहा गया था कि एयरटेल अपने यूजर्स से कभी भी अपनी KYC डिटेल्स या आधार नंबर शेयर करने के लिए कोई ऐप डाउनलोड करने के लिए नहीं कहता है और न ही एयरटेल नंबर के वेरिफिकेशन के लिए कोई भी मोबाइल कॉल करने या किसी भी SMS के लिए कहता है। ऐसे में इस प्रकार के कॉल या SMS से सावधान रहना चाहिए, क्योंकि इनसे आपके साथ फ्रॉड हो सकता है।