Home Chattisgarh छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी वेंटिलेटर पर , बेटे ने कहा-...

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी वेंटिलेटर पर , बेटे ने कहा- पापा की हालत गंभीर

3
0
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रमुख अजीत जोगी, File Pic

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रमुख अजीत जोगी की हालत गंभीर बताई जा रही है। आज सुबह अजीत जोगी की तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे अमित जोगी ने ट्वीट कर कहा है कि पापा की तबीयत बहुत गंभीर है। अमित जोगी ने अपने ट्वीट में आगे कहा है कि ढाई करोड़ छत्तीसगढ़वासियों की प्रार्थनाओं और ईश्वर की इच्छा पर ही अब सब कुछ निर्भर है। वे एक योद्धा हैं। हम को पूर्ण विश्वास है कि वो जल्द ही, एक बार फिर इस परिस्थिति को हराकर स्वस्थ और अजेय होंगे। दवाओं के साथ उन्हें आपकी दुआओं की जरूरत है।

अजीत जोगी के पुत्र और पूर्व विधायक अमित जोगी ने शनिवार को मीडिया को बताया कि आज दोपहर अजीत जोगी नास्ता कर रहे थे तब अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई। अमित जोगी ने बताया कि इसके बाद अजीत जोगी को तत्काल अस्पताल ले जाया गया। जोगी की हालत गंभीर है। शहर के श्री नारायणा अस्पताल जहां अजीत जोगी भर्ती हैं, ने मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया है कि अजीत जोगी (74 वर्ष) को शनिवार को अत्यंत गंभीर हालत में दोपहर लगभग 12:30 बजे अस्पताल में भर्ती किया गया।

जोगी परिवार के सदस्यों से नारायणा अस्पताल को मिली जानकारी के अनुसार अजीत जोगी सुबह अपनी दैनिक दिनचर्या के अनुसार व्हीलचेयर पर गार्डन में घूम रहे थे। इस दौरान उन्होंने गंगा इमली (जंगल जलेबी) भी खाया। उसके बाद वह अचानक बेहोश हो गए। बुलेटिन में बताया गया है कि परिवार के सदस्यों ने जब अस्पताल को इसकी सूचना दी तब अस्पताल के चिकित्सक जोगी को देखने उनके निवास पहुंचे।

डॉक्टरों ने घर पर ही जोगी का इलाज शुरू किया और नारायणा अस्पताल लाकर उन्हें भर्ती कराया गया। अस्पताल ने बताया है कि घर पर ही जोगी को अटैक आया था। उनका हृदय सामान्य होने की तरफ बढ़ रहा है लेकिन सांस सामान्य नहीं हआ है। जोगी वेंटिलेटर पर हैं और उनकी हालत गंभीर है। पूर्व मुख्यमंत्री को दिल का दौरा पड़ा था, अब यह साफ नहीं है कि गंगा इमली का बीज फंसने की वजह से दौरा पड़ा या दौरा पड़ने की वजह से सांस नली में बीज फंस गया। हालांकि, अब बीज निकाला जा चुका है।

अमित जोगी ने बताया कि अस्पताल में अजीत जोगी की पत्नी और कोटा क्षेत्र की विधायक रेणु जोगी तथा अन्य लोग मौजूद हैं। राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि राज्यपाल अनुसुईया उइके और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। अधिकारियों ने बताया कि राज्यपाल उइके ने विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी को फोन कर जोगी का हालचाल जाना। रेणु जोगी ने राज्यपाल को अजीत जोगी के स्वास्थ्य की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्यपाल ने जोगी के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।

अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री बघेल ने अजीत जोगी के पुत्र अमित जोगी से फोन पर चर्चा कर अजीत जोगी के स्वास्थ्य का हालचाल जाना। उन्होंने बताया कि बघेल ने अमित जोगी से चर्चा में उन्हें आश्वस्त किया कि अजीत जोगी के स्वास्थ्य के संबंध में राज्य सरकार द्वारा हर संभव पहल की जाएगी। भारतीय प्रशासनिक सेवा से राजनीति में आए अजीत जोगी वर्तमान में मारवाही क्षेत्र से विधायक हैं।

वह वर्ष 2000 में छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के दौरान यहां के पहले मुख्यमंत्री बने तथा वर्ष 2003 तक मुख्यमंत्री रहे। राज्य में वर्ष 2003 में हुए विधानसभा के पहले चुनाव में कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी से पराजित हो गई थी। राज्य में कांग्रेस नेताओं से मतभेद के चलते जोगी ने वर्ष 2016 में नयी पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) का गठन कर लिया था और वह उसके प्रमुख हैं।