Home Bhopal कांग्रेस के हवाई नेता हवा में ही करते है बातें: डॉ. नरोत्तम...

कांग्रेस के हवाई नेता हवा में ही करते है बातें: डॉ. नरोत्तम मिश्रा

6
0
गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा , File Photo
भोपाल।गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कोरोना काल मे घर मे  बैठकर राजनीति कर रहे कमलनाथ , उनके पुत्र सांसद नकुल नाथ सहित कांग्रेस के अन्य नेता हवा बाज़ नेता हो गए है और हवा-हवाई बाते कर लोगो मे भ्रमित कर रहे है। पन्ना जिले की रुंझ नदी में कोरोना पीड़ितों के शव मिलने की मीडिया रिपोर्ट के आधार पर प्रदेश सरकार की आलोचना शुरू करने से पहले वास्तविकता तो जान लेना था। गंभीर आरोप लगाने से पहले कामलनाथ खुद वहां जाते नही तो अपने बेटे को ही भेज देते। सच यह है कि नदी में 6 शव नही दो शव मिले है। दोनों मृतको की उम्र 75 वर्ष व 90 वर्ष है। इसमें एक केंसर की बीमारी से ग्रसित था और दूसरे को भी गंभीर बीमारी थी। स्थानीय लोग बीमारी से मौत होने पर शव जलाते नही, उसे नदी में बहा देते है।इसलिए यह दोनों शव नदी में बहाए गए थे। लेकिन वास्तविकता जाने बिना कांग्रेसी हवा में बयानबाज़ी करने लगे। ट्वीट व बयानों से प्रदेश की जनता में भ्रम फैलाया गया कि कोरोना से गाँवो में मौत का तांडव चल रहा है। लोग शवो को नदी में बहा रहे है जबकि वास्तविकता यह है कि गाँवो में पाजीटीविटी रेट मात्र 6 फीसदी है और वो भी धीरे धीरे कम हो रहा है।
कांग्रेस का यह कृत्य शर्मनाक तो है ही साथ ही यह भी बताता है कि वह मौत पर राजनीति करने में भी नही चूकती है। कांग्रेस के एक हवा बाज़ नेता कहते है कि सरकार नकली इंजक्शन बनाने वालों पर कठोर कार्यवाही नही कर रही जबकि हम किसी भी गड़बड़ी करने वाले को नही बख्श रहे हैं। गैर इरादतन हत्या, एनएसए की कार्यवाही की जा रही है। उन्हें उम्रकैद की सजा मिल सके इस    लिए विधि विभाग से राय ली गयी है। कालाबाजारी, नकली दवाओं, अधिक शुल्क वसूलने आदि के प्रकरणों में कड़ी कार्रवाई की जाए। प्रदेश में अभी तक ऐसी 194 कार्रवाईयां की गई हैं, जिनमें 49 व्यक्तियों के विरूद्ध एफ.आई.आर. की गई है। अधिक शुल्क वसूलने पर अस्पतालों से मरीजों के परिजनों को 74 लाख 14 हजार रूपए की राशि वापस दिलाई गई है।
कांग्रेस नेता आरोप लगा रहे है कि आरोपियों को बचाया जा रहा है , जबलपुर के सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत मोखा पर कार्यवाही नही हो रही। उन्हें पता ही नही है कि मोखा पर एनएसए  की कायवाही हुई है और उसे जेल भेजा जा चुका है। गुजरात से आरोपियों को प्रदेश लाने के लिए एसटीएफ के एडीजी खुद जबलपुर पहुचे है। और किस तरह की कार्यवाही चाहते है , कंग्रेसी वो ही बता दे। गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने इस महामारी में जिस तरह गैर जिम्मेदार और अपरिपक्व विपक्ष का फर्ज निभाया है उसका उदाहरण पहले कभी देखने को नही मिला है।