Home Bhopal आपातकाल लोकतंत्र पर काला धब्बा के विरोध में काले कपड़ पहन, काला...

आपातकाल लोकतंत्र पर काला धब्बा के विरोध में काले कपड़ पहन, काला मास्क, काली पट्टी पहन– हवा में छोड़े काले गुब्बारे

19
0

आपातकाल की पीड़ा झेलने वाले  मीसा बंदियों का शाल श्रीफल,पगड़ी एंव भारत माता का चित्र देकर किया सम्मान

भोपाल: कांग्रेस शासित तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाए आपातकाल का गुरु नानक मंडल ने भोपाल गेट पर आपातकाल प्रतीक डायन बताते हुए आक्रामक किंतु व्यवस्थित तरीके से काली टीशर्ट पर काला दिवस लिख, आपातकाल का काला मास्क, काला दिवस की पट्टी बांध कर  काले गुब्बारे हवा में छोड़ते हुए जिलाध्यक्ष सुमित पचोरी जी की अगुवाई में विरोध दर्ज कराते हुए भारतीय लोकतंत्र का हत्यारा बताया  इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष राकेश कुकरेजा ने लाखों बेगुनाहों को अभिव्यक्ति की आजादी का हनन करते हुए जेलों में ठूसा और घोर अत्याचार किए जो निश्चित ही भारतीय राजनीति में काला अध्याय रहा इस अवसर पर मीसा बंदी बिहारीलाल लोकवानी, रामजीवन दुबे, गोविंद डाँड़वानी, गुरमुखदास लखमानी का सम्मान करते हुए उनके योगदान की सराहना भी की गई।

इस अवसर पर भगवानदास ढालिया, महेश मकवाना ,विष्णु राजपूत,नरेंद्र ठाकुर, अतुल घेंघट, अजय प्रजापति, कैलाश हिरवे, राजा शर्मा, मुकेश सोलंकी,  राजकुमारी डोंगरे, सुनील सराठे,सुरिया बाजी, महेंद्र कटकोले,जमना प्रसाद,पी सी कनर्जी, रामु नाटा, राजीव भाग्यने, अभिषेक ठाकुर आदि उपस्थित रहे ।