Home Fashion Secret Superstars | महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का साधन है पार्लर: आरती...

Secret Superstars | महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का साधन है पार्लर: आरती चहांदे

23
0

  • ‘ब्यूटी विद ब्रेन’ की फीलिंग लाता है मेकअप

नागपुर. मेकअप के बाद महिलाओं में ‘ब्यूटी विद ब्रेन’ की फीलिंग आती है। इससे महिलाओं में आत्मविश्वास तो बढ़ता ही है, साथ ही ब्यूटी पार्लर का व्यवसाय कर महिलाएं सक्षम भी बन सकती हैं। पहले की अपेक्षा वर्तमान में लोग सुंदरता, फिटनेस और स्वास्थ्य के प्रति अधिक जागरूक हुए हैं। हर कोई सुंदर दिखना चाहता है। इसके चलते ही ब्यूटी पार्लर की डिमांड काफी बढ़ गई है। ब्यूटी पार्लर के बढ़ते क्रेज को देखते हुए कई महिलाएं इसका कोर्स कर स्वयंरोजगार कर रही हैं।

इससे महिलाएं स्वावलंबी और आत्मनिर्भर बन रही हैं। इन विचारों के साथ पीलिंग ट्रीटमेंट एक्सपर्ट आरती चहांदे ‘नवभारत बी ब्यूटीफुल’ में कहती हैं कि उन्होंने पिछले 8 से 10 वर्ष में 100 से अधिक ब्यूटीशियन को तैयार कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाया, वहीं मैनीक्योर, पेडीक्योर, फेशियल के साथ मेकअप से महिलाओं की सुंदरता को बढ़ा रही हैं।

वे अपने पार्लर में केमिकल प्रोडक्ट्स के बजाय हर्बल प्रोडक्ट्स का ही उपयोग करती हैं। उनकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि वे बहुत कम फीस में जहां लड़कियों को एक्सपर्ट बना रही हैं, वहीं मध्यम वर्गीय परिवार की लड़कियों को कोर्स करने के बाद एक चेयर मुफ्त में देती हैं, जिससे लड़कियां भी अपना स्वयंरोजगार शुरू कर आत्मनिर्भर बनें। पहले क्लास में जहां 15 लड़कियां थीं, वहीं अब क्लास में 30 लड़कियां कोर्स कर रही हैं।

त्वचा और बालों की देखभाल आवश्यक

आरती कहती हैं कि पहले मेकअप केवल प्रोफेशनल्स और बड़े लोगों तक ही सीमित था। लेकिन आज यह महिला हो या पुरुष, सभी की जरूरत बन गया है। महिलाओं के लिए कोई भी समारोह बिना मेकअप के अधूरा है। दौड़धूप भरी जिंदगी में प्रदूषण का त्वचा और बालों पर भारी परिणाम होता है। ऐसे में त्वचा की तरह ही बालों की देखभाल करना बहुत आवश्यक हो सकता है। दोनों की देखभाल में केमिकल की जगह हर्बल प्रोडक्ट का उपयोग ही अति उत्तम होता है। महीने में एक बार ब्यूटी पार्लर में कलींजिंग के साथ फेशियल कराना चाहिए। इससे त्वचा टाइट रहने के साथ ब्राइट रहती है।

यह भी पढ़ें

इन टिप्स से दूर हो सकती हैं समस्याएं

आंखों के नीचे के डार्क सर्कल कैसे दूर करें?

हॉफ टी स्पून एलोवेरा जेल और 1 विटामिन-ई कैप्सूल का सीरम बनाएं। इस सीरम से रात में आंखों के नीचे मसाज करें। कुछ ही दिन में यह हल्के हो जाएंगे।

एक्ने की समस्या से कैसे बचें?

जिस किसी को भी एक्ने है, उसे साबुन नहीं लगाना चाहिए। इसे दूर करने के लिए टी ट्री ऑइल की 2 बूंद, एलोवेरा जेल और 1 विटामिन-ई की कैप्सूल को लेकर तीनों का पेस्ट बनाएं और इससे रोज मसाज करें। बाहर जाने से पहले सनस्क्रीम जरूर लगाएं।

त्वचा को स्वच्छ रखने के लिए क्या उपाय करना चाहिए?

त्वचा को स्वच्छ रखने के लिए दिन में कम से कम 3 बार हर्बल फेसवॉश से चेहरा धोएं। इसके अलावा चेहरे पर पानी मारते रहना चाहिए। महीने में 1 या 2 बार उबटन बनाकर भी लगाएं। इससे त्वचा टाइट, ब्राइट और रिंकल्स फ्री रहती है।

फेशियल में कितने दिनों का अंतर होना चाहिए?

एक बार फेशियल कराने के बाद कम से कम 21 दिन बाद ही दूसरी बार फेशियल कराना चाहिए।

टीनेजर्स को फेशियल कब से शुरू करना चाहिए।

18 से 20 वर्ष तक की लड़कियों को फेशियल की बजाय केवल क्लींजिंग करानी चाहिए।

ड्राई त्वचा को कोमल बनाने के लिए क्या करें ?

ड्राई त्वचा को मुलायम और कोमल बनाने के लिए ऑलिव ऑइल से मसाज करें।

डैंड्रफ से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है?

डैंड्रफ से छुटकारे के लिए प्याज के रस में एलोवेरा जेल मिलाकर सिर के रूट्स में अच्छी तरह लगाना चाहिए।

बालों में मेहंदी कितनी देर रखी जानी चाहिए?

बालों में मेहंदी कम से कम 45 मिनट रखी जानी चाहिए। ज्यादा देर मेहंदी रखने से यह बालों को रूखा बनाती है।