Home Dharm navratri 2021 shardiya navratri date time puja vidhi ghatasthapana kalasthapana shubh muhrat...

navratri 2021 shardiya navratri date time puja vidhi ghatasthapana kalasthapana shubh muhrat – Astrology in Hindi

27
0


Navratri 2021 : शक्ति की उपासना का महापर्व शारदीय नवरात्र सात अक्तूबर  गुरुवार से प्रारंभ हो रहे हैं। चतुर्थी तिथि  का क्षय होने के कारण इस बार नौ के बजाय आठ दिन के ही नवरात्र होंगे।  13  अक्तूबर को महाअष्टमी और  14 अक्तूबर  को महानवमी मनाई जाएगी। वहीं,  मां दुर्गा इस बार डोली में सवार होकर आएंगी। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार यह स्थिति स्त्रियों के वर्चस्व में वृद्धि करेगी।

घट स्थापना के  शुभ मुहूर्त
घट स्थापना के लिए सात अक्तूबर (गुरुवार) को दो विशेष मुहूर्त हैं। पहला मुहूर्त सात अक्तूबर की सुबह  6:17  से  7:44  के बीच है। इस समय शुभ चौघड़िया मुहूर्त उपस्थित होगा। इसके बाद,  सुबह  9:30  बजे से स्थिर लग्न का शुभ मुहूर्त शुरू हो जाएगा जो  11:43  बजे तक रहेगा।

  • पहला मुहूर्त  सुबह  6:17  से  7:44  तक
  • दूसरा मुहूर्त  सुबह  9:30  से  11:43  तक

आने वाले 11 दिन इन राशियों के लिए बेहद शुभ, सूर्य की तरह चमकेगा भाग्य

 13  को अष्टमी, 14  को मनाई जाएगी नवमी

  • इस बार चतुर्थी तिथि क्षय होने  से  नौ की बजाय आठ दिन के  नवरात्र होंगे। सात अक्तूबर को प्रतिपदा यानि पहला  नवरात्र होगा। इसी दिन घट स्थापना की जाएगी। 13  अक्तूबर को अष्टमी और  14  को नवमी मनाई जाएगी। इन दोनों दिनों में भक्त कन्या पूजन कर सकेंगे।

 तीसरा और चौथा नवरात्र 9 अक्तूबर को

  • देवी मंडपों में तृतीय तिथि को चंद्रघंटा देवी और चतुर्थी को देवी कूष्मांडा की पूजा-अर्चना होती है। 9 अक्तूबर को प्रात:  7:48 बजे तक तृतीया तिथि रहेगी और उसके बाद चतुर्थी। इसलिए, दोनों देवियों की आराधना एक ही दिन 9 अक्तूबर को होगी। इस बार पितृ पक्ष में एक दिन की  वृद्धि से नवरात्र का एक दिन घटा है।    

डोली की सवारी से महिला शक्ति बढ़ेगी

  • शास्त्रीय मान्यता के अनुसार गुरुवार और शुक्रवार को माता की सवारी डोली होती है। मां जगदंबा डोली में सवार होकर आएंगी और डोली में बैठकर ही प्रस्थान करेंगी। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार नवरात्रि में माता की डोली की सवारी स्त्री शक्ति की मजबूती  का प्रतीक है।

नवरात्र की तिथियां
प्रतिपदा     7 अक्तूबर     मां शैलपुत्री
द्वितीया     8 अक्तूबर     मां ब्रह्मचारिणी
तृतीया/चतुर्थी     9 अक्तूबर     मां चंद्रघंटा/मां कूष्मांडा
पंचमी     10 अक्तूबर     मां स्कंदमाता
षष्ठी     11 अक्तूबर     मां कात्यायनी
सप्तमी     12 अक्तूबर     मां कालरात्रि
अष्टमी     13 अक्तूबर     मां महागौरी (दुर्गा अष्टमी)
नवमी     14 अक्तूबर     मां सिद्धिदात्री (महानवमी)

संबंधित खबरें