Home Dharm Chhath Puja 2021 Date: बिहार के 96 गंगाघाटों पर अर्घ्य देंगे छठव्रती,...

Chhath Puja 2021 Date: बिहार के 96 गंगाघाटों पर अर्घ्य देंगे छठव्रती, जानिए इन घाटों पर होगी छठ पूजा और कौन-से घाट खतरनाक घोषित

20
0

छठ पर्व में अब दो दिन शेष हैं। इस बीच प्रशासन ने खतरनाक घाटों की सूची जारी कर दी है। जिला प्रशासन ने नगर निगम क्षेत्र के 12 घाटों को खतरनाक घोषित किया है। यानी छठव्रती राजधानी में 96 गंगाघाटों पर अर्घ्य दे सकेंगी।

घाटों पर तैनात सेक्टर मजिस्ट्रेट की रिपोर्ट के आधार पर डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने इसकी घोषणा की है। जिन घाटों को खतरनाक घोषित किया गया है, वहां रविवार से ही बैरिकेडिंग कर दी गई है। इन घाटों पर लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। पुलिस की भी तैनाती की गई है। कई घाटों पर दलदल होने के कारण प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। नगर निगम पहले से 108 गंगा घाटों पर छठ महापर्व की तैयारी शुरू की थी। घाटों पर दलदल, तेज ढाल होने और संपर्क पथ खराब होने के चलते घाटों को खतरनाक घोषित किया गया है।

नहाय-खाय आज, कल शाम 5:45 से 6:25 बजे तक खरना

बांसघाट होकर जाएं कलेक्ट्रेट घाट: कलेक्ट्रेट और महेंद्रूघाट पर छठ को लेकर संशय बना हुआ था, लेकिन प्रशासन ने यहां छठ से संबंधित तैयारी के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। यहां लगभग एक लाख छठ व्रत करने वाले लोगों की संख्या रहती है। इसीलिए इन दोनों घाटों पर तैयारी की जा रही है। कलेक्ट्रेट घाट पर लगभग एक किमी में दलदल की स्थिति है। इस कारण पीपापुल नहीं बन पा रहा है। लेकिन प्रशासन अब इस घाट पर जाने के लिए बांसघाट से संपर्क पथ बना रहा है। यानी कलेक्ट्रेट घाट पर जाने के लिए दो से तीन किमी लंबी दूरी तय करनी होगी।

यहां वाहन पार्किंग की व्यवस्था

घाट का नाम पार्किंग स्थल क्षमता

शाहपुर घाट हॉकी ग्राउंड कंटोनमेंट 100

एसडीओ घाट कंटोनमेंट फील्ड (आरा गोलंबर) 300

पीपापुल घाट दानापुर टेंपो स्टैंड 200

दीघा घाट: जेपी सेतु दीघा जनार्दन घाट गोलंबर के चारों ओर-11, क्षमता: 220

रामजीचक, शिवा घाट: जेपी सेतु यातायात पोस्ट से पूरब गोलंबर के नीचे दक्षिणी फ्लैंक पार्किंग-12, क्षमता: 100

छठ महापर्व के मौके पर शेयर करें ये खूबसूरत Photos, Messages, Quotes, Shayari

पाटीपुल, दीघा पोस्ट, आफिस रोड: जेपी सेतु यातायात पोस्ट से पूरब गोलंबर के नीचे दक्षिणी फ्लैंक पार्किंग-13

मीनार घाट, बिंद टोली घाट: दीघा जनार्दन घाट के उत्तर जाने वाली सड़क पर पार्किंग-14 , क्षमता: 100

गेट नंबर 93 घाट: जेपी सेतु के पाया नंबर 2 व 3 के बीच पार्किंग-9, क्षमता: 200

गेट नंबर 88: गेट नं. 83 घाट के अंदर गंगा पथ ढलान के ऊपर, पार्किंग-2, क्षमता: 100

गेट नंबर 88: गेट नं 83 अंडरपास के ऊपर सड़क पर पूरब पार्किंग 3, क्षमता: 700

एलसीटी,राजापुर पुल घाट: राजापुर पुल घाट के अंदर रास्ते के पूरब, क्षमता: 600

गंगा पथ के ऊपर राजापुर पुल घाट: नवयुवा कैंप के उत्तर खाली जगह, क्षमता: 200

बांसघाट: अंडरपास के उत्तर व पूरब गंगा पथ, क्षमता: 500

कलेक्ट्रेट व महेंद्रू घाट: गांधी मैदान के अंदर, क्षमता: 2500

कालीघाट, कदम व पटना कालेज: पटना कॉलेज मैदान, क्षमता: 300

एनआईटी मोड़ से गायघाट: सायंस कालेज, क्षमता: 300

गायघाट: एनएमसीएच ग्राउंड, क्षमता: 500

पटना सिटी : चौक शिकारपुर आरओबी के नीचे, क्षमता: 200

पटना साहिब स्टेशन, क्षमता: 200

कटरा बाजार समिति, क्षमता: 500

बीएमपी-5 तालाब: वेटनरी कॉलेज, क्षमता: 500

नहाय खाय के साथ आज से शुरू होगा नेम-निष्ठा का महापर्व छठ, नोट कर लें उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने का समय

ये घाट खतरनाक घोषित

कटाही घाट, टेढी घाट, महाराज घाट, मिरचई घाट, अदालत घाट, मिश्री घाट, टीएन बनर्जी घाट, जजेज घाट, अंटा घाट, जहाज घाट, बीएन कालेज घाट तथा बांकीपुर घाट शामिल है। कटाही व टेढी घाट पर दो से तीन फीट तक दलदल है। यहां संपर्क पथ नहीं बन पाया। मिरचई घाट पर भी दो से तीन फीट दलदल है। इसके अलावा अदालत घाट, मिश्री घाट, टीएन बनर्जी घाट, जजेज घाट, अंटा घाट, जहाज घाट, बीएन कालेज घाट तथा बांकीपुर घाट पर नाले का गंदा पानी लगातार गिर रहा है।

इन घाटों पर होगी छठ पूजा

नकटा दियारा, रामजी चक स्कूल पर, रामजी चक, रामजी चक नहर घाट, शिवा घाट, दीघा पाटीपुल घाट, जनार्दन घाट, मीनार घाट, दीघा पोस्ट आफिस घाट, बिंद टोली घाट, गेट नंबर -93 घाट (जेपी सेतु से पूरब गेट नंबर 93 से 89 तक ) 92 से 89 तक तथा 92 घाट, मखदुम खिलजी के सामने बालूपर घाट, गेट नंबर 88, गेट नंबर 83, बालू घाट, कुर्जी घाट, एलसीटी घाट, नारियल घाट, पीपा पुल घाट-5, एसडीओ घाट, शाहपुर घाट, राजापुर पुल घाट, पहलवान घाट, बांस घाट, बुद्ध घाट, कलेक्ट्रेट घाट, महेंद्रू घाट, वंशी घाट, कालीघाट, कदम घाट, पटना कालेज घाट, कृष्णा घाट, गांधी घाट, गोलकपुर बालू घाट/ बरहरवा घाट, पटना लॉ कालेज घाट, रानीघाट, बीएन राय घाट, गुलबी घाट (9 और 10 घाट), बालू घाट, घघा घाट, रौशन घाट, देवराहा बाबा घाट, जगरनाथ घाट (चौधरी टोला घाट) पत्थरी घाट, साईं घाट, बीएनआर घाट, कदम घाट, कोयला घाट, घसियारी घाट, नरकट घाट, लोहरबा घाट, मठ केदारनाथ घाट, हनुमान घाट, गोसाई घाट, भरहवा घाट, राजा घाट, भरहरवा घाट, करनाल गंज घाट, गाय घाट, भद्र घाट, महावीर घाट, रानीपुर तकिया तालाब घाट, नौजर घाट, कॉलनी घाट, दुल्ली घाट, सीढी घाट, आदर्श घाट, मितन घाट, सीता घाट, सीता घाट, खोजकला घाट, केशव राय घाट, हरानंद साह घाट, झाउगंज घाट, चिमनी घाट/ कंगन घाट, गुरुगोविंद सिंह कालेज / किला घाट, कच्ची घाट, खिडकी घाट, पत्थर घाट, अदरक घाट, गड़ेरिया घाट, पिदमडिया, नंदगोला, नुरूद्दीनगंज घाट, बुंदेल टोली घाट, दमराही घाट, शरीफगंज घाट आदि शामिल हैं।

तय जगहों पर ही कर सकेंगे वाहनों की पार्किंग

 छठ पूजा के दिन वाहनों की पार्किंग के लिए प्रशासन ने कुल 14 जगहों पर व्यवस्था की है। छठ के दिन 10 नवंबर को दोपहर 2 से शाम 7 बजे तथा 11 नवंबर की रात 2 से सुबह 8 बजे तक अशोक राजपथ, पटना सिटी, बाइपास, बेली रोड सहित कई मार्गों पर वाहनों का परिचालन प्रतिबंधित रहेगा। वहीं 10 और 11 नवंबर के पूर्वाह्न 10 बजे तक पटना जिले पहाड़ी मोड़ से दीदारगंज की ओर ट्रकों का परिचालन नहीं होगा। इन वाहनों को मसौढ़ी मोड़ के रास्ते बिहटा-सरमेरा पथ के रास्ते फतुहा की ओर जाना होगा, जबकि बाढ़ मोकामा से आने वाले ट्रकों का परिचालन फतुहा ओवरब्रिज से दो किमी पश्चिम से यू टर्न लेकर एनएच 30 होते हुए बिहटा-सरमेरा पथ से होगा।