Home Dharm सूर्य, शुक्र, मंगल के राशि परिवर्तन से चमक रहा है इन राशियों...

सूर्य, शुक्र, मंगल के राशि परिवर्तन से चमक रहा है इन राशियों का भाग्य, देखें क्या आप भी हैं इस लिस्ट में शामिल

14
0

ज्योतिष में राशि परिवर्तन को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। राशि परिवर्तन का सभी राशियों पर शुभ- अशुभ प्रभाव पड़ता है। फरवरी माह में सूर्य, शुक्र और मंगल ने राशि परिवर्तन कर लिया है। सूर्य ने 14 जनवरी को मकर राशि में प्रवेश किया था। मंगल ने 26 फरवरी को मकर राशि में प्रवेश किया। मंगल के बाद 27 फरवरी को शुक्र ने भी मकर राशि में प्रवेश कर लिया है। आइए जानते हैं सूर्य, शुक्र और मंगल के राशि परिवर्तन से किन राशि वालों को शुभ फल की प्राप्ति हो रही है…

सिंह राशि- 

  • कार्यों के प्रति उत्साह रहेगा।
  • धर्म-कर्म के प्रति रूझान बढ़ेगा।
  • माता का सहयोग मिलेगा।
  • माता से धन प्राप्ती के योग हो सकते हैंष
  • किसी मित्र का आगमन हो सकता है।
  • परिवार के संग किसी धार्मिक स्थान की यात्रा पर जाना हो सकता है।

31 मार्च तक इन राशियों पर रहेंगी धन की देवी मां लक्ष्मी मेहरबान, दुख- दर्द होंगे दूर

कन्या राशि- 

  • कारोबार के विस्तार की योजना साकार होगी। 
  • भाइयों का सहयोग मिलेगा लेकिन परिश्रम की अधिकता रहेगी।
  • घर-परिवार में मांगलिक कार्य होंगे। 
  • वस्त्रादि उपहार भी मिल सकते हैं।
  • नौकरी में परिवर्तन के साथ दूसरे स्थान पर भी जाना पड़ सकता है।
  • आयात-निर्यात कारोबार में लाभ के अवसर प्राप्त होंगे।
  • माता का सानिंध्य मिलेगा, वाहन सुख में वृद्धि हो सकती है।
  • नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा।

मंगल ने किया मकर राशि में प्रवेश, ये 4 राशि वाले आने वाले 39 दिनों तक मनाएंगे जश्न

वृश्चिक राशि-  

  • आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे।
  • घर-परिवार की सुख सुविधाओं का विस्तार होगा। 
  • कार्यक्षेत्र में परिवर्तन संभव है, परिश्रम की अधिकता रहेगी।
  • माता का सानिंध्य व सहयोग मिलेगा।
  • लाभ में वृद्धि की संभावना है।
  • नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा।

मकर राशि में बना 5 ग्रहों का विशेष संयोग, मेष से लेकर मीन राशि तक वालों के जीवन में होंगे बड़े बदलाव

मकर राशि- 

  • आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे, अध्ययन में रूचि रहेगी।
  • नौकरी में परिवर्तन की संभावना बन रही है, किसी दूसरे स्थान पर जाना पड़ सकता है। 
  • भाइयों के सहयोग से परंतु परिश्रम की अधिकता रहेगी। 
  • धार्मिक कार्यों में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा।
  • परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करेंगे।
  • दांपत्य जीवन में सुख का अनुभव करेंगे।

(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।)