Home Dharm विवाह रेखा पर हो यह चिह्न तो मिल सकता है धोखा

विवाह रेखा पर हो यह चिह्न तो मिल सकता है धोखा

8
0

विवाह रेखा व्यक्ति के वैवाहिक जीवन का संकेत देती है। हाथ में विवाह रेखा कैसी है, यह व्यक्ति के वैवाहिक जीवन के बारे में बहुत कुछ बताती है। हाथ में विवाह रेखा कई तरह से हो सकती है। यह रेखा बुध पर्वत पर मिलती है। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार यदि विवाह रेखा आगे बढ़कर अंत में सांप की जीभ की तरह दो शाखाओं में बंट जाए तो दंपत्ति में वाद-विवाद की स्थितियां बनी रहती हैं। ऐसी दंपत्ति में छोटी-छोटी बातों पर मतभेद होते हैं। कई बार विवाद हद से ज्यादा भी बढ़ जाता है। हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार यदि दोनों हाथों में विवाह रेखाएं दो शाखाओं में बंट जाए तो शादी टूटने का संकेत होता है। कारण चाहे वाद-विवाद और मतभेद का रहे या फिर अन्य कुछ। 

Chaitra Navratri 2022: कब से शुरू होंगे चैत्र नवरात्रि? जानें तिथि, पूजा विधि व कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

यदि महिला के हाथ में विवाह रेखा के शुरुआत में ही द्वीप का निशान बने तो विवाह में धोखा मिलने की आशंका बनती हैं। यदि ऐसा नहीं है तो यह जीवनसाथी के खराब स्वास्थ्य का संकेत देता है। इस स्थिति में जीवनसाथी का स्वास्थ्य अक्सर खराब रहता है। व्यक्ति के हाथ में विवाह रेखा का बहुत नीचे की ओर झुककर हृदय रेखा को काटना शुभ लक्षण नहीं माना गया है। यह निशान जीवनसाथी की मृत्यु का संकेत देता है। विवाह रेखा का लंबी होना और सूर्य पर्वत तक जाना शुभ संकेत माना गया है। यह स्थिति जीवनसाथी के संपन्न होने का भी इशारा करती है, लेकिन यदि विवाह रेखा सूर्य रेखा को काटकर आगे बढ़े तो इसके परिणाम उलट मिलेंगे। ऐसे लोगों को विवाह के बाद जीवनसाथी से बदनामी का सामना करना पड़ सकता है। बुध पर्वत पर आकर कोई रेखा विवाह रेखा को काटे तो यह भी वैवाहिक जीवन में परेशानियों का इशारा करता है। यदि विवाह रेखा बीच में टूट जाए तो यह वैवाहिक विच्छेद का संकेत देती है। 
(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। ये जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं  पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया  गया है।)