Home Dharm चाणक्य नीति: आर्थिक तंगी का इशारा करते हैं ये 5 संकेत, आप...

चाणक्य नीति: आर्थिक तंगी का इशारा करते हैं ये 5 संकेत, आप भी जान लें मान्यता

9
0

आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में मानव जीवन से जुड़े कई पहलुओं का वर्णन किया है। चाणक्य को आर्थिक, राजनीतिकार व महान शिक्षाविद माना जाता है। आचार्य चाणक्य ने अपनी नीतियों के बल पर साधारण बालक चंद्रगुप्त को मौर्य वंश का सम्राट बना दिया था। चाणक्य ने एक श्लोक में बताया है कि आखिर किन चीजों से आने वाली आर्थिक तंगी का इशारा मिलता है। 

1. परिवार में कलह बढ़ना- आचार्य चाणक्य के अनुसार, परिवार में कलह होना आर्थिक स्थिति के लिए शुभ नहीं होता है। कहते हैं कि जिन लोगों के घर में लड़ाई-झगड़े का माहौल रहता है, वहां दरिद्रता का वास होता है। इसलिए घर का माहौल हमेशा खुशहाल रहना चाहिए।

26 फरवरी तक धनु राशि में इन दो बड़े ग्रहों की युति, इन राशि वालों को तरक्की के प्रबल योग

2. तुलसी का पौधा सूखना- हिंदू धर्म में तुलसी का पौधा पूजनीय है। तुलसी के पौधे को सुख-समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। कहते हैं कि अगर तुलसी का पौधा सूखना बिगड़ने वाली आर्थिक स्थिति का इशारा करता है। इसलिए कहा जाता है कि घर में तुलसी का पेड़ कभी सूखने नहीं देना चाहिए।

3.पूजा-पाठ से दूरी- कहते हैं कि जिन घरों में पूजा-पाठ होता है, वहां मां लक्ष्मी का वास होता है। इसके साथ ही सकारात्मक ऊर्जा आती है। जिन घरों में लोग अचानक से पूजा-पाठ से दूरी बना लेते हैं, वहां आर्थिक तंगी आ सकती है।

30 जनवरी से शुक्र होने जा रहे मार्गी, इन 4 राशि वालों के शुरू होंगे अच्छे दिन

4. कांच का टूटना- नीति शास्त्र के अनुसार, कांच का टूटना आर्थिक स्थिति के लिए शुभ नहीं माना जाता है। कहते हैं कि जिन घरों में कांच टूटता है उनमें आर्थिक तंगी आने की संभावना बन सकती है।

5. बड़ों का सम्मान जरूरी- कहते हैं कि जिन घरों में बड़े-बुजुर्गों का सम्मान नहीं होता है, वहां की आर्थिक स्थिति कभी नहीं सुधरती है। इसलिए घर के बड़ों के साथ हमेशा अच्छा व्यवहार करना चाहिए।